World

विश्व भर में हर साल कम से कम आठ लाख लोग खुदकुशी करते हैं : रिपोर्ट

 Paris :  दुनिया भर में खुदकुशी के मामलों में 1990 के बाद से एक तिहाई से ज्यादा की कमी आयी है. यह जानकारी गुरुवार को जारी एक अध्ययन में सामने आयी है. बता दें विश्व स्वास्थ्य संगठन खुदकुशी को एक गंभीर लोक स्वास्थ्य मुद्दे के तौर पर सूचीबद्ध करता है और एक अनुमान के अनुसार हर साल कम से कम आठ लाख लोग खुदकुशी करते हैं. हालांकि, ग्लोबल बर्डन ऑफ डिजीज की टीम द्वारा तैयार किये गये डेटा मॉडल के अनुसार अलग अलग देशों में आत्महत्या करने के अलग अलग कारण पाये गये हैं. इस अध्ययन से स्पष्ट है कि दुनिया भर में आत्महत्या के मामले कम हुए हैं. बीएमजे पत्रिका में प्रकाशित अध्ययन में बताया गया है कि एक अनुमान के अनुसार  2016 में 8,17,000 लोगों ने खुदकुशी की जो 1990 के मुकाबले 6.7 प्रतिशत अधिक है. हालांकि, पिछले तीन दशकों में दुनिया की आबादी काफी बढ़ी है.

टीम ने पाया कि उम्र और जनसंख्या के आकार के आधार पर देखें तो आत्महत्या की दर प्रति 100,000 लोगों पर 16.6 से घट कर 11.2 हो गयी है,  जो 32.7 प्रतिशत कम है;  कनाडा की पब्लिक हेल्थ एजेंसी के शोध वैज्ञानिक और अध्ययन के एक सहयोगी हीथर ओरपाना ने कहा, खुदकुशी से होने वाली मौतों को रोका जा सकता है और यह अध्ययन दर्शाता है कि हमें आत्महत्या के मामलों की रोकथाम की दिशा में अपना प्रयास जारी रखना चाहिए.

इसे भी पढ़ेंः पश्चिम बंगाल धरना एपिसोड : ममता के धरने में बैठे आईपीएस अफसरों पर गृह मंत्रालय की टेढ़ी नजर, नपेंगे

advt

advt
Advertisement

Related Articles

Back to top button