Khas-KhabarRanchi

विधानसभा की कार्यवाही 2 बजे तक स्थगित, कोरोना को लेकर स्पीकर ने शुरू की कार्यमंत्रणा समिति की बैठक

Ranchi : झारखंड विधानसभा के बजट सत्र का सोमवार को 14वां दिन है. सदन की कार्यवाही शुरू होते  ही कई विधायकों ने कोरोना महामारी के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए विधानसभा के बजट सत्र को स्थगित करने की मांग की.

कार्यवाही शुरू होते ही बीजेपी के विधायक रणधीर सिंह,माले विधायक विनोद सिंह के अलावा कई विधायकों ने एक सुर में विधानसभा के बजट सत्र को स्थगित करने की मांग की.

माले विधायक विनोद सिंह ने कहा कि सत्र चल रही है. आपातकाल की स्थिति पर चर्चा होनी चाहिए. पूरे देश में विकट स्थिति है और महानगरों में काम करने वाले मजदूर संकट में हैं. उनके लौटने की स्थिति नहीं है और वे सभी आर्थिक संकट से जूझ रहे हैं. सारे विधायकों का फंड इसमें लगा दें, लेकिन आम लोगों को राहत मिलनी चाहिए.

ram janam hospital
Catalyst IAS

इसे भी पढ़ें – कोविड19:  सीएम हेमंत सोरेन ने राज्य की 4400 से अधिक पंचायतों में आइसोलेशन सेंटर बनाने का आदेश दिया

The Royal’s
Pitambara
Pushpanjali
Sanjeevani

बैठक के बाद होगा सत्र पर निर्णय

वहीं विधायकों की मांग और कोरोना को लेकर एहतियाती कदम उठाने को लेकर विधानसभा स्पीकर रवींद्रनाथ महतो ने कार्यमंत्रणा समिति की बैठक बुलायी है. स्पीकर ने कोरोना की इस विकट परिस्थिति को देखते हुए यह बैठक बुलायी है. कार्यमंत्रणा समिति की बैठक शुरू हो चुकी है.

साथ ही सदन की कार्यवाही 2 बजे तक के लिए स्थगित कर दी गयी है. समिति की बैठक में अध्यक्ष के साथ सभी विधायक दल के नेता के नेता मौजूद रहेंगे. बैठक में बजट सत्र के संचालन को लेकर निर्णय लिया जायेगा.

वहीं बीजेपी विधायक नीलकंठ सिंह मुंडा ने मुरहू में निर्दोष की नक्सली होने के संदेह में गोली मारकर हत्या का मामला सदन में उठाया. और सरकार से मुआवजा की घोषणा की मांग की.

इसे भी पढ़ें – #COVIDIOTS : झारखंड के लोगों में दिख रही घर से सड़क तक लापरवाही, जान लीजिये इटली में क्यों खराब हुए हालात

रविवार देर शाम से ही 31 मार्च तक झारखंड लॉक डाउन

वहीं कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए झारखंड में भी 31 मार्च तक सरकार ने लॉकडाउन कर दिया है. सीएम हेमंत सोरेन ने रविवार शाम एक हाइ लेवल मीटिंग के बाद इसकी घोषणा की.

कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए मुख्यमंत्री ने देर शाम अपने कांके रोड स्थित आवास पर राज्य के आला अधिकारियों के साथ  बैठक की.

बैठक में मुख्यमंत्री ने सरकार की ओर से कोरोना वायरस से बचाव के लिए उठाये जा रहे कदमों की जानकारी साझा की. उसके बाद स्थिति गंभीर देखते हुए पूरे राज्य में लॉकडाउन की घोषणा कर दी.

कोरोना से फैलने वाले संक्रमण को रोकने के लिए राज्य के सभी 24 जिलों को सरकार के आदेश के बाद तत्काल लॉकडाउन कर दिया गया है. स्वास्थ्य, चिकित्सा विभाग ने यह आदेश जारी कर दिया है.

इसे भी पढ़ें – #Lockdown को लेकर PM ने लोगों को चेतायाः खुद को और परिवार को बचायें, राज्य सरकारों को भी निर्देश

सोमवार सुबह 6 बजे से लॉकडाउन 

सीएम सोरेन ने बताया कि यह लॉकडाउन सोमवार की सुबह छह बजे से 31 मार्च की रात 12 बजे तक रहेगा.

सीएम के निर्देश के बाद राज्य के सारे बॉर्डर सील होंगे. हालांकि जरूरी चीजों जुड़ी चीजों की दुकान खुली रहेंगी. दवा दुकान, दूध दुकान की सेवा बाधित नहीं होंगी.

मुख्यमंत्री ने कहा कि लॉकडाउन के आदेश का उल्लंघन करने पर कानूनी कार्रवाई की जा सकती है.

इस दौरान कोई भी पब्लिक ट्रांसपोर्ट सर्विस को इजाजत नहीं होगी। इसमें प्राइवेट बसें, टैक्सी, ऑटो रिक्शा, रिक्शा, ई-रिक्शा सब बंद रहेंगी.

इसे भी पढ़ें – #JantaCurfew: न्यूज विंग की खबर का असर, मेडिकल टीम बस स्टैंड पहुंची, थर्मामीटर से कर रही जांच, देखें वीडियोे

 

One Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button