न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

युवा पत्रकार व जन आंदोलनों में संघर्षरत समाजकर्मी अमित टोपनो की हत्या के विरोध में मौन जुलूस

eidbanner
2,367

Jamshedpur: पिछले नौ दिसंबर की रात को रांची के युवा पत्रकार एवं जन आंदोलनों में लगातार संघर्षरत समाजकर्मी अमित टोपनो की अज्ञात लोगों ने हत्या कर दी थी. इसके विरोध में सोमवार को झारखंड जनतांत्रिक महासभा ने  जमशेदपुर के अम्बेडकर चौक, डिमना से तिलका माझी चौक, डिमना तक एक मौन जुलूस निकाला. इसमें हजारों की संख्या में लोगों ने शिरकत की.  जुलूस अम्बेडकर की मूर्ति पर माला चढ़ाने के बाद मौन जुलूस में परिणत हो गया. और और तिलका माझी चौक स्थित बाबा तिलका माझी की मूर्ति पर माल्यार्पण करने के बाद खत्म हुआ.

पत्थलगड़ी आंदोलन से जुड़े कई वीडियो बनाये थे

इस दौरान महासभा के दीपक रंजीत ने कहा कि अमित टोपनो पत्रकारिता के क्षेत्र में तेजी से उभरता हुआ एक आदिवासी युवा था. जिसने पत्थलगड़ी आंदोलन के दौरान कई वीडियों बनाया था. इस उनका अचानक हत्या से लगता है कि कहि न कही उनका हत्या पत्थलगड़ी से जुड़ा हुआ प्रतीत होता  है. अनूप महतो ने कहा कि अमित टोपनो की हत्या दुर्भाग्यपूर्ण है. हम सरकार से मांग करते है कि अमित टोपनो की हत्या की निष्पक्ष और त्वरित जांच हो. दोषियों को जल्द से जल्द सजा मिले.

जुलूस में ये लोग मौजूद थे

मौन जुलूस में लक्ष्मी पूर्ती, रुम्पा, रूपा, कंका महतो, पूर्णिमा महतो, संजय सिंह, केशव प्रामाणिक, ललन प्रसाद,  कृष्णा महतो, किशन सोरेन, सर्वण सोरेन, छोटू सोरेन, दिकू मुर्मू, सोमाय सोरेन, शिवा मार्डी, अंकुर महतो, राजकिशोर महतो, संदीप महतो, शत्रुघ्न प्रमाणिक, राकेश महतो, सुरेंद्र टुडू, देवदीप महतो आदि थे.

इसे भी पढ़ेंः चाईबासा के एसडीओ से दुमका में डेढ़ लाख रुपए की लूट

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

hosp22
You might also like
%d bloggers like this: