न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

युवा पत्रकार व जन आंदोलनों में संघर्षरत समाजकर्मी अमित टोपनो की हत्या के विरोध में मौन जुलूस

2,373

Jamshedpur: पिछले नौ दिसंबर की रात को रांची के युवा पत्रकार एवं जन आंदोलनों में लगातार संघर्षरत समाजकर्मी अमित टोपनो की अज्ञात लोगों ने हत्या कर दी थी. इसके विरोध में सोमवार को झारखंड जनतांत्रिक महासभा ने  जमशेदपुर के अम्बेडकर चौक, डिमना से तिलका माझी चौक, डिमना तक एक मौन जुलूस निकाला. इसमें हजारों की संख्या में लोगों ने शिरकत की.  जुलूस अम्बेडकर की मूर्ति पर माला चढ़ाने के बाद मौन जुलूस में परिणत हो गया. और और तिलका माझी चौक स्थित बाबा तिलका माझी की मूर्ति पर माल्यार्पण करने के बाद खत्म हुआ.

mi banner add

पत्थलगड़ी आंदोलन से जुड़े कई वीडियो बनाये थे

इस दौरान महासभा के दीपक रंजीत ने कहा कि अमित टोपनो पत्रकारिता के क्षेत्र में तेजी से उभरता हुआ एक आदिवासी युवा था. जिसने पत्थलगड़ी आंदोलन के दौरान कई वीडियों बनाया था. इस उनका अचानक हत्या से लगता है कि कहि न कही उनका हत्या पत्थलगड़ी से जुड़ा हुआ प्रतीत होता  है. अनूप महतो ने कहा कि अमित टोपनो की हत्या दुर्भाग्यपूर्ण है. हम सरकार से मांग करते है कि अमित टोपनो की हत्या की निष्पक्ष और त्वरित जांच हो. दोषियों को जल्द से जल्द सजा मिले.

जुलूस में ये लोग मौजूद थे

Related Posts

बकरी बाजार मैदान में कॉम्प्लेक्स बनाने के निर्णय को रद्द करने की मांग, AAP ने मेयर को सौंपा ज्ञापन

पार्टी ने मांग की कि उस मैदान को बच्चों के खेल के मैदान-पार्क के रूप में विकसित किया जाये

मौन जुलूस में लक्ष्मी पूर्ती, रुम्पा, रूपा, कंका महतो, पूर्णिमा महतो, संजय सिंह, केशव प्रामाणिक, ललन प्रसाद,  कृष्णा महतो, किशन सोरेन, सर्वण सोरेन, छोटू सोरेन, दिकू मुर्मू, सोमाय सोरेन, शिवा मार्डी, अंकुर महतो, राजकिशोर महतो, संदीप महतो, शत्रुघ्न प्रमाणिक, राकेश महतो, सुरेंद्र टुडू, देवदीप महतो आदि थे.

इसे भी पढ़ेंः चाईबासा के एसडीओ से दुमका में डेढ़ लाख रुपए की लूट

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like
%d bloggers like this: