न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

असम : तिनसुकिया में उल्फा उग्रवादियों ने पांच युवाओं को अगवा कर हत्या कर दी

मारे गये लोगों के नाम श्यामलाल बिस्वास, अनंत बिस्वास, अभिनाश बिस्वास, सुबोध दास बताये गये हैं

14

Guwahati : असम के तिनसुकिया  में उग्रवादी हमले में पांच लोगों के मारे जाने की खबर है. जानकारी के अनुसार उल्फा (आई) उग्रवादियों ने इन लोगों को अगवा कर गोली मार दी. जिसमें पांच लोगों की मौत हो गयी. मारे गये लोगों के नाम श्यामलाल बिस्वास, अनंत बिस्वास, अभिनाश बिस्वास, सुबोध दास बताये गये हैं. बताया गया है कि गुरुवार शाम लगभग पौने आठ बजे हुए उग्रवादियों ने छह युवाओं को उठा लिया. इसके बाद उग्रवादी इन सभी युवाओं को ब्रह्मपुत्र नदी के किनारे ले गये और उन्हें गोली मार दी. खबरों के अनुसार इनमें से चार लोगों की मौके पर ही मौत हो गयी और एक की मौत अस्पताल ले जाते समय हो गयी. एक घायल को अस्पताल में भर्ती कराया गया है. हमले के संबध में असम पुलिस के एडीजीपी मुकेश अग्रवाल ने कहा है कि हमले के पीछे उल्फा (आई) के उग्रवादियों का हाथ है. पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने श्यामलाल बिस्वास, अनंत बिस्वास, अभिनाश बिस्वास, सुबोध दास की हत्या की निंदा की है. ममता ने सवाल किया है कि क्या यह एनआरसी की वजह से हुआ है.

इसे भी पढ़ेंःअस्थाना को दिल्ली हाईकोर्ट से राहतः गिरफ्तारी पर रोक, 14 नवंबर को अगली सुनवाई

हमले के दोषियों को तुरंत सजा दी जाये :  ममता

palamu_12

ममता ने कहा है कि इन लोगों की मौत पर दुख और मृतकों के परिजनों से संवेदना जाहिर करने के लिए उनके पास शब्द ही नहीं हैं. उन्होंने कहा है कि हमले के दोषियों को तुरंत सजा दी जाये. इससे पहले, असम के गुवाहाटी में 13 अक्टूबर को भी एक धमाका हुआ था जिसमें चार लोग गंभीर रूप से घायल हो गये थे.  धमाका शुक्लेश्वर घाट के पान बाजार पास हुआ था. गुवाहाटी के जॉइंट सीपी दिगांत बोरा के अनुसार लगभग पौने बारह बजे रिवर फ्रंट के नजदीक धमाका हुआ. चश्मदीदों ने बताया कि धमाका शक्तिशाली था, इसमें घाट की चहारदीवारी टूट गयी. धमाके की वजह से इस इलाके में जाम लगने की खबर है.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

%d bloggers like this: