Jamshedpur

असलम बद्र की पुस्तक शौक हर रंग का विमोचन

Jamshedpur : साकची करीम सिटी कालेज प्रेक्षागृह में शहर के मशहूर शायर असलम बद्र की किताब, काव्य रचना, शौक़ हर रंग का विमोचन उनके ही परिवार के नन्हें बच्चों ने किया. यह उनकी 7वीं पुस्तक है. इस मौके पर ग्रांड मुशायरे का आयोजन  काविश संस्था के सौजन्य से किया गया था. इस रूहानी मुशायरे की अध्यक्षता अर्का जैन यूनिवर्सिटी के वाइस चांसलर सफदर रजी ने किया. मुख्य अतिथि मंसूर अली और विशिष्ट अतिथि झारखंड प्रदेश अल्पसंख्यक विभाग सचिव मौलाना अंसार खान मौजूद थे.

केंद्र सरकार की ओर से जम्मू कश्मीर से धारा 370 हटाए जाने के बाद पहली बार गणतंत्र दिवस पर देश की पहली महिला और शहर की ख्याति प्राप्त युवा कवयित्री अंकिता सिन्हा ने अपनी दमदार प्रस्तुति दी. सभी दर्शकों और शायरों ने प्रस्तुति को सराहा. अंकिता सिन्हा ने अपनी गजल की शुरुआत की.

हम सब से अलग, सब से जुदा ढूंढ रहे हैं। इक उम्र से जीने की अदा ढूंढ रहे हैं।। इस शहरे सितमगर में वफाएं नहीं मिलती।

SIP abacus

भोले हैं बहुत, आप भी क्या ढूंढ़ रहे हैं।। सब जानते हैं सब का खुदा एक है, लेकिन पर लोग यहां अपना खुदा ढूंढ रहे हैं।।

Sanjeevani
MDLM

जिस शक्श को इक उम्र यहां खोजते गुजरी।

उस शक़्स को हम अपने सिवा ढूंढ रहे हैं।। मिलता ही नहीं अंकिता जख्मों के सिवा कुछ।

क़ातिल के नगर, दुख की दवा ढूंढ रहे हैं।।

इन्होंने दी प्रस्तुति

मौके पर अन्य शायर एवं कवियों में अनवर कमाल, बहरीन, गल्फ़, दिलशाद नज़्मी,रांची, ज़फर इक़बाल रहमानी, संजय सोलोमन, इक़बाल, असलम, सऊदी अरब, मुश्ताक़ अहज़न, गौहर अज़ीज़, अरशद मोहसिनी, संचालक,सऊदी अरब, महताब अनवर, बदरे आलम खलिश, अफ़सर काज़मी, अहमद बदर, सैयद अहमद शमीम ने एक से बढ़कर एक प्रस्तुति दी.

इसे भी पढ़ें- BIG BREAKING : मुंबई क्राइम ब्रांच की पुलिस ने जमशेदपुर से साइबर बदमाश को किया गिरफ्तार, लिया ट्रांजिट रिमांड पर

Related Articles

Back to top button