Crime NewsJamshedpurJharkhand

टाटानगर जीआरपी में पदस्थापित ASI 20 हजार घूस लेते गिरफ्तार

Jamshedpur: राज्य में भ्रष्ट अधिकारियों के खिलाफ एसीबी की कार्रवाई लगातार जारी है. इसी दौरान रविवार को जमशेदपुर एसीबी ने कार्रवाई करते हुए टाटानगर जीआरपी में पदस्थापित एएसआइ भरत शुक्ला को 20 हजार रुपये घूस लेते रंगे हाथ गिरफ्तार कर लिया है.

एसीबी की टीम ने भरत शुक्ला को बिष्टुपुर स्थित छप्पन भोग के पास से गिरफ्तार किया है. गौरतलब है कि झारखंड में एसीबी की टीम इस साल अब तक घूस लेते हुए 11 लोगों को गिरफ्तार कर चुकी है.

इसे भी पढ़ें- #Budgetspecial : कृषि ऋण माफी पर रहेगा जोर, कृषि आशीर्वाद योजना व एक रुपये में जमीन रजिस्ट्री पर लग सकता है ग्रहण

स्क्रैप टाल चलाने के लिए 40 हजार रुपये की मांग की गयी थी

टाटानगर जीआरपी में  एएसआइ के पद पर पदस्थापित भरत शुक्ला के द्वारा स्क्रैप व्यापारी श्रवण कुमार से स्क्रैप टाल चलाने के लिए 40 हजार रुपये की मांग की गयी थी. नहीं देने पर भरत शुक्ला ने टाल को हटा देने की धमकी दी थी. जिसके बाद श्रवण ने इसकी शिकायत एसीबी से की थी.

एसीबी ने मामले की सत्याता की जांच की जिसमें बात सच पायी गयी. इसी के बाद एसीबी की टीम ने एएसआइ को रंगे हाथों घूस लेते गिरफ्तार किया.

इसे भी पढ़ें- पेयजल संकट : रांची नगर निगम को रघुवर सरकार ने नहीं दिया था 20 करोड़,  विभाग से 19.77 करोड़ रुपये  की मांग

घूस लेते रंगे हाथ गिरफ्तार हुए एएसआइ

एएसआइ के द्वारा स्क्रैप व्यापारी से घुस मांगे जाने की शिकायत मिलने के बाद एसीबी ने जांच के क्रम में घुस मांगे जाने की बात सही पायी. रविवार को एसीबी की टीम ने स्क्रैप व्यापारी श्रवण को 20 हजार रुपये दिये और एएसआइ भरत शुक्ला को देने के लिए कहा.

पैसे मिलने के बाद श्रवण ने भरत को छप्पन भोग दुकान के पास बुलाया. इसके बाद जैसे ही श्रवण से भरत को 20 हजार रुपये दिये एसीबी की टीम ने उसे रंगे हाथों गिरफ्तार कर लिया. फिलहाल एसीबी की टीम भरत से सोनारी स्थित एसीबी कार्यालय में पूछताछ कर रही है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button