Main SliderNational

ओवैसी ने कहा- मोदी ने पद का उल्लंघन किया, ये धर्मनिरपेक्षता की हार हिंदुत्व की जीत

New Delhi. अयोध्या में भव्य राम मंदिर निर्माण के लिए शिलान्यास हो गया. पीएम मोदी के द्वारा भूमि पूजन के बाद देशभर में उल्लास है. वहीं, दूसरी तरफ ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (AIMIM) के प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने पीएम मोदी द्वारा मंदिर का शिलान्यास किए जाने पर नाराजगी जताई है.

 

 

पद का किया उल्लंघन
ओवैसी ने कहा- भारत एक धर्मनिरपेक्ष (सेक्युलर) देश है. पीएम मोदी ने राम मंदिर की आधारशिला रखकर प्रधानमंत्री ने शपथ का उल्लंघन किया है. यह लोकतंत्र और धर्मनिरपेक्षता की हार और हिंदुत्व की सफलता का दिन है.

adv

मैं भी भावुक हूं
एआईएमआईएम प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने कहा, ”प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि मैं भावुक हूं. मैं कहना चाहता हूं कि मैं भी उतना ही भावुक हूं क्योंकि मैं नागरिकता की समानता में विश्वास करता हूं. प्रधानमंत्री, मैं भावुक हूं क्योंकि एक मस्जिद 450 साल से वहां खड़ी थी.’

इसे भी पढ़ें- भारत के इन राज्यों में अलग-अलग नाम से जानी जाती है रामायण, दुनिया के ये देश भी करते हैं राम की वंदना

कांग्रेस भी जिम्मेदार
ओवैसी ने कहा- बाबरी मस्जिद के विध्वंस के लिए कांग्रेस समान रूप से जिम्मेदार है. ये धर्मनिरपेक्ष दल पूरी तरह से उजागर हो चुके हैं.

advt
Advertisement

6 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button