न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

जन आंदोलन के रूप में लेकर जिला को कुपोषण मुक्त बनाएं : सुदर्शन भगत

398

Lohardaga : लोहरदगा जिला को कुपोषण मुक्त करने का संकल्प लेकर जिले में राष्ट्रीय पोषण माह का शुभारंभ किया गया. यह पोषण माह त्योहार के रूप में 01 सितंबर से प्रारंभ होकर 30 सितंबर तक पूरे राष्ट्र में चलायी जा रही है. पोषण अभियान कार्यक्रम का शुभारंभ स्थानीय मधुसूदन लाल महिला इन्टर महाविद्यालय के प्रांगण में माननीय केंन्द्रीय राज्‍य मंत्री सुदर्शन भगत के द्वारा दीप प्रज्वल्लित कर किया गया.

लोहरदगा जिला के बच्चों, किशोर किशोरियां, महिलाओं को जिला को कुपोषण मुक्त, स्वस्थ और तन्दरूस्त करने का शपथ दिलाया गया. राष्ट्रीय पोषण माह के दौरान हर घर तक सही पोषण का संदेश पहुंचाने का काम मुख्य रूप से स्वास्थ्य विभाग और समाज कल्याण विभाग को दिया गया है. आंगनबाड़ी केंद्रों पर जागरूकता के साथ साथ विशेष व्यवस्था किया गया है. उन्होंने कहा कि लोग पोषण अभियान कार्यक्रम में बढ़ चढ़ कर हिस्सा लें और इसे जन आंदोलन के रूप में लेकर कार्यक्रम को सफल बनाया जाय. सही पोषण का संदेश हर घर के परिवार के सदस्यों तक जाय.

इसे भी पढ़ें- डिजनीलैंड भारी पड़ा पलामू जिला प्रशासन पर, शर्तों को दिखाया जा रहा है अंगूठा

मां का दूध बच्चे के लिए अमृत पान के समान

लोहरदगा उपायुक्त बिनोद कुमार ने कहा कि बच्चों के सही पोषण से ही स्वस्थ और उज्जवल उत्तराधिकारी तैयार होंगे. मां का दूध बच्चे के लिए अमृत पान के समान है. हर माता को आवश्यक रूप से 0- 6 माह तक के सभी बच्चों को अपना दूध आवश्यक रूप से पिलाना चाहिए. उपायुक्त ने 5 वर्ष तक के सभी बच्चों को कुपोषणमुक्त करने का संकल्प दुहराया. उन्होंने कहा कि भोजन करने के पूर्व और बाद स्वच्छता पर विशेष ध्यान दिया जाय. इस जन आंदोलन से समाज के सभी माताओं को जरुरत के अनुरूप पौष्टिक भोजन प्राप्त हो सकेगा जिससे उनके स्वास्थ्य पर सकारात्मक प्रभाव पड़ेगा.

SMILE

इसे भी पढ़ें- पलामू में खुला साईबर थाना, इंस्पेक्टर भिखारी राम बने प्रभारी

पौष्टिक आहार के बारे लोगों को जानकारी देकर प्रोत्साहन किया

कार्यक्रम में 6 माह के बच्चों को माननीय सांसद एवं उपस्थित विशेष अतिथियों के द्वारा मुंह जूठी कराया गया. स्टॉल में बच्चों का जांच करके इलाज भी किया गया. सभी प्रखंड के आंगनबाड़ी सेविकाओं ने पौष्टिक फलों एवं सब्जियों का प्रदर्शन करके पोषण एवं पौष्टिक आहार के बारे लोगों को जानकारी देकर प्रोत्साहन किया. देश में बौनापन, अल्पपोषण, खून की कमी अनीमिया तथा जन्म के वक्त कम वजन वाले शिशुओं की संख्या में कमी लाने के लिये विभिन्न मंत्रालय और विभाग विगत वर्षों से सक्रिय हैं. इस दिशा में अपेक्षित परिणाम हासिल होना अभी बाकी है.

इस कार्यक्रम में माननीय केन्द्रीय राज्‍य मंत्री सुदर्शन भगत, जिला परिषद् अध्यक्षा सुनैना कुमारी, राजकिशोर महतो, जिला 20 सूत्री उपाध्यक्ष राकेश प्रसाद, सिविल सर्जन, समाज कल्याण पदाधिकारी मनीषा तिर्की, प्रखंड स्तर के सभी सीडीपीओ, जनप्रतिनिधि चन्द्रशेखर, महिला कॉलेज प्राचार्य शमीमा, मनोरमा एक्का, आंगनबाड़ी सेविकाएं एवं अन्य सबंधित विभागों के पदाधिकारी मौजूद थे.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like
%d bloggers like this: