Fashion/Film/T.VNational

जेल से निकलकर गरीबों की मदद करना चाहते हैं आर्यन खान, एनसीबी से कहा- मेरे काम पर आपको गर्व होगा

Mumbai : ड्रग्स केस जेल की सजा काट रहे बॉलीवुड अभिनेता शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान की जमानत याचिका पर 20 अक्टूबर को फैसला आएगा. इस वक्त जेल में आर्यन खान की काउंसलिंग चल रही है. आर्यन खान ने स्वापक औषधि नियंत्रण ब्यूरो (एनसीबी) अधिकारियों से काउंसलिंग के दौरान कहा कि वह गरीबों के कल्याण के लिए काम करेंगे और भविष्य में ऐसा कोई काम नहीं करेगा, जो उसका नाम खराब हो.

जेल में आर्यन खान का नंबर N956

एजेंसी के एक अधिकारी ने बताया कि एनसीबी के क्षेत्रीय निदेशक समीर वानखेड़े और सामाजिक कार्यकर्ताओं द्वारा काउंसलिंग के दौरान आर्यन ने कहा कि रिहाई के बाद वह गरीबों और दबे कुचले लोगों के वित्तीय उत्थान के लिए काम करेंगे और कभी ऐसा काम नहीं करेगा, जिससे उसका नाम खराब हो. आर्यन ने कहा, मैं कुछ ऐसा करूंगा जो आपको मुझ पर गर्व महसूस कराएगा. एनसीबी द्वारा गिरफ्तार आर्यन सहित सात अन्य आरोपियों का परामर्श सत्र चल रहा है. आरोपियों में दो महिला भी शामिल हैं. जेल में आर्यन खान का नंबर N956 है. दरअसल जेल में किसी को भी नाम से नहीं बल्कि उसके नंबर से ही बुलाया जाता है, ऐसे में आर्यन खान को भी उनका कैदी नंबर मिल गया है. बताया जा रहा है कि आर्यन खान जेल में काफी परेशान से नजर आते हैं.

ram janam hospital
Catalyst IAS

बता दें कि क्रूज ड्रग्स पार्टी केस में आर्यन खान की जमानत याचिका पर मुंबई के सेशंस कोर्ट में गुरुवार को सुनवाई हुई थी. जमानत याचिका पर सुनवाई के बाद अदालत ने फैसला 20 अक्टूबर तक सुरक्षित रख लिया है. कोर्ट में आर्यन खान की ओर से अमित देसाई और सतीश मानशिंदे, जबकि एनसीबी की ओर से एडिशनल सॉलिसिटर जनरल (ASG) अनिल सिंह ने दलीलें पेश की थीं.

The Royal’s
Pushpanjali
Sanjeevani
Pitambara

गौरतलब है कि आर्यन खान को तीन अक्टूबर को गोव जा रही क्रूज शिप पर छापेमारी के बाद गिरफ्तार किया गया था. इस समय वह न्यायिक हिरासत में हैं. आर्यन को मुंबई के आर्थर रोड जेल में रखा गया है.

Related Articles

Back to top button