Court NewsCrime NewsLead NewsNationalTOP SLIDERTRENDING

सिर्फ ड्रग्स उपभोक्ता नहीं है आर्यन खान बल्कि ड्रग्स ट्रैफिकिंग में भी है शामिल, NCB ने हाईकोर्ट को बताया

NCB का दावा, आर्यन खान अपने दोस्त अरबाज मर्चेंट से ड्रग्स की खरीद करता था

Mumbai : नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (एनसीबी) ने बॉम्बे हाईकोर्ट में फिल्म अभिनेता शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान द्वारा दायर जमानत याचिका का विरोध किया है. एनसीबी ने आरोप लगाया है कि आर्यन न केवल ड्रग्स लेता था, बल्कि वह अवैध मादक पदार्थों की तस्करी में भी शामिल था.

न्यूज़ एजेंसी पीटीआई के मुताबिक, एनसीबी ने यह भी दावा किया कि आर्यन खान और शाहरुख खान की मैनेजर पूजा ददलानी नाम की एक महिला जांच को पटरी से उतारने की कोशिश में सबूतों और गवाहों के साथ छेड़छाड़ कर रही थी.

advt

दूसरी ओर, आर्यन खान के अधिवक्ताओं ने हाईकोर्ट को एक अतिरिक्त नोट प्रस्तुत किया, जिसमें कहा गया था कि एनसीबी के जोनल डायरेक्टर समीर वानखेड़े और कुछ राजनीतिक हस्तियों के बीच प्रसारित किए जा रहे आरोपों और काउंटर आरोपों से उनका कोई लेना-देना नहीं है.

एनसीबी ने मंगलवार को बॉम्बे हाईकोर्ट में आर्यन खान द्वारा दायर जमानत याचिका के जवाब में अपना हलफनामा दायर किया. न्यायमूर्ति एन डब्ल्यू सांबरे की एकल पीठ द्वारा दिन में इस मामले पर सुनवाई होने की संभावना है.

इसे भी पढ़ें :प्यार पर राजशाही कुर्बान, जापानी राजकुमारी माको ने ब्वॉयफ्रेंड से की शादी, 14 करोड़ येन का गिफ्ट लेने से किया इन्कार

क्या है NCB के हलफनामे में

एनसीबी ने अपने हलफनामे में कहा कि मामले की जांच को पटरी से उतारने की गलत मंशा से चल रही जांच से छेड़छाड़ की कोशिश की जा रही है. हलफनामे में पूजा ददलानी का भी जिक्र किया गया और कहा गया, “ऐसा लगता है कि जब जांच चल रही है तो इस महिला ने पंच गवाहों को प्रभावित किया है.” एनसीबी ने कहा कि जमानत याचिका गलत है.

इसे भी पढ़ें : सिंगल चार्ज में 140 किलोमीटर की रेंज देगी ये देस में बनी इलेक्ट्रिक बाइक, बुकिंग हुई शुरू

ये आरोप लगाये आर्यन पर

एजेंसी ने कोर्ट से कहा है कि मामले की अब तक की जांच में आर्यन खान की ड्रग्स की अवैध खरीद, परिवहन और उसके खपत में भूमिका का खुलासा हुआ है. एजेंसी ने कहा कि प्रथम दृष्टया जांच से पता चला है कि आर्यन खान अपने दोस्त अरबाज मर्चेंट से ड्रग्स की खरीद करता था, जो इस मामले में एक आरोपी भी है.

याचिका में कहा गया है, “आवेदक (आर्यन खान) विदेशों में कुछ ऐसे लोगों के संपर्क में था, जो ड्रग्स की अवैध खरीद के लिए एक अंतरराष्ट्रीय ड्रग नेटवर्क का हिस्सा प्रतीत होते हैं.” हलफनामे में आगे कहा गया है कि भले ही आर्यन खान के पास से ड्रग्स नहीं मिले हों, लेकिन उसने इस साजिश में भाग लिया है.

हलफनामे में कहा गया है, “इस आवेदक (आर्यन खान) की एनडीपीएस अधिनियम के तहत अवैध मादक पदार्थों की तस्करी सहित गंभीर अपराधों में भूमिका स्पष्ट है. इस मामले में अन्य आरोपियों के साथ इसकी सांठगांठ और संबंध को देखा गया है.” एनसीबी ने कहा कि अन्य आरोपियों से मध्यम मात्रा में ड्रग्स की बरामदगी हुई है और इसलिए आर्यन खान के मामले को अलग से नहीं देखा जा सकता है. एनसीबी ने यह भी कहा कि अभी भी मामले की जांच की जा रही है. आरोप पत्र दायर करने की जरूरत है.

एजेंसी ने कहा कि एजेंसी को अंतरराष्ट्रीय संबंधों की ठीक से जांच करने के लिए पर्याप्त समय की आवश्यकता है ताकि उचित माध्यम से संबंधित विदेशी एजेंसी से संपर्क किया जा सके, जिसमें कुछ और समय लगेगा.

इसे भी पढ़ें :BIG NEWS : सुप्रीम कोर्ट का अहम फैसला, दीवानी के मामले में SC/ST Act हटा सकती हैं अदालतें

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: