न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

विश्व कप से पहले हर विकल्प को आजमाना चाहते हैं : गेंदबाजी कोच अरुण

21

New Delhi : भारतीय टीम के गेंदबाजी कोच भरत अरूण ने विश्व कप से पहले के आखिरी एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय मैच में प्रयोग जारी रखने के संकेत देते हुए मंगलवार को यहां कहा कि टीम ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ बुधवार को होने वाले मैच में हर विकल्प को आजमाना चाहेगी. अरुण ने पांचवें और निर्णायक वनडे की पूर्व संध्या पर पत्रकारों से कहा, ‘‘ विश्व कप के लिए जाने वाली टीम की रूप रेखा कमोबेश तैयार है, लेकिन हम इस मैच में हर विकल्प को आजमाना चाहेंगे, ताकि वहां किसी गलती की गुंजाइश नहीं रहे. यही कारण है कि हम अलग-अलग क्रम पर विभिन्न खिलाड़ियों को आजमा रहे हैं.’’

इसे भी पढ़ें : कांग्रेस कार्य समिति की बैठक,भाजपा-आरएसएस की ‘फासीवादी विचारधारा’ को हराने का संकल्प लिया

विश्व कप से पहले टीम को कुछ विभागों में सुधार करने की जरूरत

पिछले मैच में कोहली के चौथे नंबर पर बल्लेबाजी करने के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा, ‘‘ जैसा की मैंने अभी कहा, बस यही एक मौका है, जहां हम कुछ आजमा सकते है. इसमें कोई शक नहीं कि विराट ने तीसरे क्रम पर कमाल की बल्लेबाजी की है और सफल रहे है. इन चीजों को आजमने से हमें विभिन्न विकल्पों के बारे में पता चलेगा.’’ भरत अरुण ने कहा कि विश्व कप से पहले टीम को कुछ विभागों में सुधार करने की जरूरत है जिसमें गेंदबाजी प्रमुख है.

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ मोहाली में श्रृंखला के चौथे एकदिवसीय में मैच में भारतीय टीम 358 रन बनाने के बाद भी लक्ष्य का बचाव नहीं कर सकी. ऑस्ट्रेलिया ने 47.5 ओवर में छह विकेट पर 359 रन बनाकर श्रृंखला 2-2 से बराबर कर लिया. उन्होंने कहा, ‘‘ हमें कुछ विभागों में सुधार करना है खास कर गेंदबाजी में अभी काम करना होगा. टीम के लिए यह अच्छा है कि विश्व कप से पहले हमें अपनी कमियों के बारे में पता चल गया. हमें इसमें सुधार करना होगा. यह सीखने के लिहाज से हमारे लिये अच्छा है.’’

75 प्रतिशत मैचों में सफल रहे 

भारतीय गेंदबाजों को पिछले मैच में एस्टन टर्नर के सामने बेबस दिखे. जिन्होंने 43 गेंदों पर पांच चौकों और छह छक्कों की मदद से नाबाद 84 रन की तूफानी पारी खेल मैच का पासा पलट दिया था. अरुण ने कहा, ‘‘ अगर आप हमारे रिकार्ड को देखेंगे तो ये वहीं गेंदबाज है जिन्होंने हमें 75 प्रतिशत मैचों में सफल रहे है और किसी भी टीम के लिए यह बड़ी बात है. हां पिछले मैच में ऐसा नहीं हुआ, मैं खुश हूं कि यह अभी हुआ. इससे यह पता चलता है कि हमें काफी अभ्यास करने की जरूरत है, ताकि विश्व कप जैसे बडे टूर्नामेंट से पहले सुधार हो सके.’’

इसे भी पढ़ें : अगस्ता वेस्टलैंड केसः ईडी को क्रिश्चन मिशेल से पूछताछ की मिली इजाजत

विजय का आत्मविश्वास काफी बढ़ा

अरुण ने कुछ खिलाड़ियों के प्रदर्शन पर खुशी जतायी जिनमें हार्दिक पंड्या की जगह टीम में शामिल किये गये हरफनमौला विजय शंकर भी शामिल हैं. उन्होंने कहा, ‘‘ विजय का आत्मविश्वास काफी बढ़ा है. उसे जिस क्रम पर भी बल्लेबाजी के लिए भेजा गया उसने शानदार प्रदर्शन किया. हमने उसे चौथे, छठे और सातवें क्रम पर आजमाया उनसे शानदार प्रदर्शन किया. इसके साथ ही उसकी गेंदबाजी में भी सुधार हुआ है. बल्लेबाजी से मिले आत्मविश्वास की झलक उसकी गेंदबाजी में भी दिखती है.’’ अरूण ने कहा, ‘‘ करियर की शुरूआत में वह 120-125 किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार से गेंदबाजी करता था, लेकिन अब वह 130 की रफ्तार से भी गेंद फेंक रहा है और गेंदबाजी में काफी आत्मविश्वास दिखा रहा है. वह टीम के लिए बड़ा सकारात्मक पहलू है.’’

इसे भी पढ़ें : बुलेट ट्रेन प्रोजेक्टः भूमि अधिग्रहण की धीमी गति पर चिंतित जापान, मिस हो गई डेडलाइन, हम कुछ नहीं कर…

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: