न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

कश्‍मीर की मांओं से सेना की अपीलः बेटों को कहो- सरेंडर कर दें, वर्ना मार गिरायेंगे

पुलवामा हमले पर सेना का खुलासा- ISI की मदद से जैश ने हमले को दिया अंजाम

eidbanner
1,812

Shrinagar: जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में हुए आतंकी हमले और उसके बाद हुई मुठभेड़ को लेकर सेना ने आज प्रेस कॉन्फ्रेंस की. सेना, सीआरपीएफ और जम्‍मू-कश्‍मीर पुलिस की साझा प्रेस कॉन्‍फ्रेंस में 15 कॉर्प्‍स के जीओसी ले. कर्नल केजेएस ढिल्‍लन ने बताया कि पुलवामा हमले के 100 घंटों के भीतर सुरक्षा बलों ने जैश-ए-मोहम्‍मद के नेतृत्‍व को मार गिराया गया है. इस प्रेस वार्ता में चिनार कॉर्प्स के लेफ्टिनेंट जनरल केजीएस ढिलौन्न, श्रीनगर के आईजी एसपी पाणी, CRPF के आईजी जुल्फिकार हसन और GoC विक्टर फोर्स के मेजर जनरल मैथ्यू शामिल हुए.

कश्मीर की मांओं से सेना की अपील

चिनार कॉर्प्स के लेफ्टिनेंट जनरल केजीएस ढिलौन्न ने कश्मीर की महिलाओं से अपील करते हुए कहा कि कश्‍मीर के जिन बच्‍चों ने हथियार उठाए हैं, उनकी मांओं से अपील है कि सरेंडर करने को कह दें. नहीं तो जो भी सेना के खिलाफ बंदूक उठाएगा वो मारा जाएगा. उन्होंने कहा कि सेना की सरेंडर पॉलिसी है. आतंकी हथियार डालें. साथ ही कहा कि सेना कभी नहीं चाहती है कि कोई भी नागरिक मारा जाये.

आइएसआइ की मदद से हुआ हमला

इस दौरान कर्नल ने कहा कि 14 फरवरी और सोमवार के हमले में शहीद हुए जवानों को श्रद्धांजलि अर्पित की. वहीं 14 फरवरी को हुए आतंकी हमले को लेकर बड़ा खुलासा भी सेना के अफसरों ने किया. उन्होंने कहा कि हम लोग पिछले काफी समय से जैश ए मोहम्मद के आतंकियों पर नजर बनाए हुए थे. जैश के आतंकियों ने ही पुलवामा में आतंकी हमला किया था. लेकिन पुलवामा में हुए आतंकी हमले के पीछे ISI का हाथ था, उनकी मदद से ही जैश ने हमला किया था.

पत्थरबाजों को लास्ट वार्निंग

Related Posts

पश्चिम बंगाल : भाजपा के उभरने से परेशान ममता बनर्जी कड़े फैसले लेने को तैयार, 31 को समीक्षा करेंगी

हमने दो-तीन ऐसे टीएमसी नेताओं की पहचान की है जिन्‍होंने भाजपा से पैसा लिया और पार्टी के खिलाफ काम किया है.

लेफ्टिनेंट जनरल केजीएस ढिलन्न ने जम्मू-कश्मीर के पत्थरबाजों को भी आज के प्रेस कॉन्फ्रेंस में चेतावनी दी है. उन्होंने कहा कि कोई भी नागरिक मुठभेड़ की जगह पर ना आए, ना ही मुठभेड़ के दौरान और ना ही बाद में. उन्होंने साफ कहा कि अगर ऐसा होता है तो उन्हें भी एक्शन लेना होगा.

लेफ्टिनेंट जनरल ढिलन्न ने कहा कि जैश-ए-मोहम्मद पाकिस्तान का बच्चा है, यहां कितने गाजी आए और कितने चले गए. पाकिस्तानी सेना और ISI जैश-ए-मोहम्मद को कंट्रोल कर रही है. पुलवामा हमले का मास्टरमाइंड कामरान ही था, जिसे मार गिराया गया है.

इस दौरान उन्होंने आतंकियों को खुली चेतावनी दी और कहा कि जो भी आतंकी जम्मू-कश्मीर में घुसेगा, वह जिंदा नहीं बचेगा.

इसे भी पढ़ेंः पुलवामा अटैकः पाकिस्तानी नागरिकों को 48 घंटे के भीतर बीकानेर छोड़ने का आदेश

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

hosp22
You might also like
%d bloggers like this: