न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

क्या COOL दिखने लिए आप भी अपना रहे हैं ये जानलेवा आदतें

यह युवाओं की आदत नहीं बल्कि भीड़ में कूल दिखने के लिए वो स्मोक कर रहे हैं. 

32

Delhi : आज का युवा स्वैग और स्टाइल दिखाने के लिए क्या कुछ नहीं कर रहा है. महंगे-महंगे कपड़ो के साथ कूल हेयरस्टाइल्स तक. नई पीढ़ी भीड़ से अलग दिखने के लिए कई प्रकार के अतरंगी काम करती है. कई अतरंगी कामों की लिस्ट में एक और काम भी शामिल है. वो है स्मोकिंग. यह युवाओं की आदत नहीं बल्कि भीड़ में कूल दिखने के लिए वो स्मोक कर रहे हैं.

इसे भी पढ़ें : ट्रैवल के दौरान न हो परेशानी, जाने कैसे रोकें उल्टियां

सोशल मीडिया पर अपनी आदतों को दिखाना

hosp3

एक सर्वे के अनुसार देश के 23 प्रतिशत युवा (20-35 वर्ष) भीड़ में कूल दिखने के चक्कर में धूम्रपान करने लगे हैं. ऐसा करने वाले 35-50 वर्ष के लोगों की तुलना में काफी अधिक है. सर्वे की माने तो 15 प्रतिशत युवाओं को धूम्रपान करते हुए अपनी तस्वीरों को सोशल मीडिया पर पोस्ट करने में बड़ा ही कुल समझते हैं. इसका ही उल्टा, अधिक उम्र के 53 प्रतिशत लोगों का कहना था कि धूम्रपान व्यक्तिगत मामला होता है. 23 प्रतिशत लोगों ने माना कि सोशल मीडिया पर अपनी आदतों को दिखाना तो नहीं चाहिए.

इसे भी पढ़ें : क्या आप बातें भूलने लगे हैं, कहीं आपको अल्जाइमर तो नहीं ! जानें इस बीमारी के लक्षण तथा बचाव के उपाय

कार्य के दबाव में धूम्रपान

सर्वे के मुताबिक यह भी पता चला है कि व्यक्ति की भावनात्मक सोच को धूम्रपान का मुख्य कारक माना जाता है. युवा समूह तनाव से निजात पाने के लिए धूम्रपान कर रहे हैं, जबकि 35-50 वर्ष के लोग कार्य के दबाव में धूम्रपान करते हैं. वहीं, 37 प्रतिशत लोगों ने कहना है की नौकरी हो जाने के बाद उन्होंने धूम्रपान बढ़ा दिया है. इस श्रेणी में 36-50 वर्ष के आयु समूह की महिलाएं अधिक धूम्रपान करती पाई जाती है .

इसे भी पढ़ें : लव, मनी और धोखा है सैफ अली खान की फिल्म “BAAZAAR”

स्वास्थ्य संबंधी चिंता

सर्वे में शामिल किए गए 60 प्रतिशत लोगों ने स्वीकारा किया कि उन्होंने धूम्रपान छोड़ने के लिए कभी भी कोशिश ही नहीं की. क्योंकि यह उनके कंट्रोल में है ही नहीं. कई लोगों ने इसे छोड़ने की भी कोशिश की, लेकिन परिवार के दबाव और स्वास्थ्य संबंधी चिंता को सबसे बड़ा कारण माना.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

You might also like
%d bloggers like this: