न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

क्या लालपुर इलाके में रहने वाले लोग सबसे अधिक सहिष्णु व धैर्यवान हैं ?

झारखंड सिविल सोसाइटी मंच के फेसबुक पोस्ट पर लोग कर रहें कमेंट

341

Ranchi: क्या लालपुर इलाके में रहने वाले लोग पूरे रांची शहर में सबसे अधिक सहिष्णु और धैर्यवान हैं. यह सवाल उठाया है झारखंड सिविल सोसाइटी मंच के राजेश कुमार दास ने. राजेश कुमार दास द्वारा फेसबुक पर उठाये गये सवाल पर लोग लगातार कमेंट कर रहे हैं. कुछ लोग लालपुर चौक इलाके में लगने वाले न्यूक्लियस मॉल को जिम्मेदार ठहरा रहे हैं. तो कुछ लोग फुटपाथ दुकानदारों को औऱ कुछ लोग ट्रैफिक पुलिस औऱ ट्रैफिक सिग्नल लाईट को.

इसे भी पढ़ें – CM का विभाग : 441.22 करोड़ का घोटाला, अफसरों ने गटका अचार और पत्तों का भी पैसा

सर्कुलर रोड में रोजाना तगड़ा जाम लगता है

राजेश कुमार दास ने फेसबुक पर जाम की तस्वीर शेयर करते हुए लिखा हैः सर्कुलर रोड में रोजाना तगड़ा जाम लगता है. लोग घंटो जाम में फंसते हैं. कई लोगों के बीच तू-तू, मैं-मैं होती है. इस सड़क से सटी गलियों में रहने वाले लोगों को अपनी गली से मुख्य सड़क तक आने औऱ फिर अपनी गलियों में जाने में भारी आफत खड़ी हो जाती है. लोग रात के 8.40 बजे से 9.00 बजे के बाद ही अपने घरों में जाना पसंद करते हैं.  क्योंकि तब सड़क पर गाड़ियां कम होती हैं. सड़क पर कोई लेन नहीं है. कोई लेन का अनुशासन नहीं है. लोग अपनी गाड़ियों को सड़क पर पार्क करके घंटो गायब हो जाते हैं. तंग सड़क पर बड़ी बसों औऱ ट्रकों के आने पर कोई प्रतिबंध नहीं है. नो इंट्री खत्म होने के बाद भारी वाहन लोगों की जान के लिए आफत है. इस इलाके में ट्रैफिक पुलिस पूरी तरह से आप्रासंगिक हैं. उनसे कोई विशेष अपेक्षा नहीं है. अब स्थानीय लोगों और व्यापारी वर्ग को सामने से आकर व्यवस्था में सुधार की मांग करनी चाहिए.!!!!!!!!

इसे भी पढ़ें – 140  IAS और 60 IFS बायोमिट्रिक से नहीं बनाते हैं हाजिरी, राज्य प्रशासनिक सेवा अफसरों ने भी छोड़ा हाजिरी बनाना

फेसबुक पोस्ट पर कई लोग लगातार कमेंट कर रहे हैं

राजेश कुमार दास के इस फेसबुक पोस्ट पर कई लोग लगातार कमेंट कर रहे हैं. सुनील कुमार नाम के व्यक्ति ने कहा है कि न्यूक्लियस मॉल के कारण जेल रोड कार पार्किंग बन गया है. मॉल बनने से पहले लालपुर चौक तक कोई जाम नहीं रहता था.

रंजन कुमार नाम के व्यक्ति लिखते हैं लालपुर चौक पर फुटपाथ पर दुकान वालों ने अपना होर्डिंग लगा दिया है औऱ बाकी बचे जगह पर ठेले वाले ने कब्जा कर लिया है. लेकिन रांची म्यूनिसिपस कॉरपोरेशन को इससे कोई मतलब नहीं रहा.

अमृत कुमार दुबे ने पुलिस पर सवाल उठाते हुए लिखा हैः बाईक, स्कूटी की हेलमेट चेकिंग से फुर्सत मिले, तब ना ट्रैफिक पुलिस कुछ करेगी. हर दिन बस वसूली अभियान जारी है.

इसे भी पढ़ें – गुजरात में हिंसा के मूल में बंद कारखाने और बेरोजगारी : राहुल

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: