Court News

डीके पांडेय के बेटे और बहू के बीच का विवाद सुलझाने को मध्यस्थता

Ranchi : अपनी बहू द्वारा लगाये गये दहेज प्रताड़ना समेत अन्य कई गंभीर आरोप झेल रहे झारखंड के पूर्व डीजीपी डीके पांडे, उनकी पत्नी व बेटे और बहू के बीच शनिवार को रांची सिविल कोर्ट के निर्देश पर मध्यस्थता की पहली कोशिश की गयी.

इसे भी पढ़ें – कोझिकोड हादसे के बाद रांची में दुर्घटनाग्रस्त होने से बचा एयर एशिया का विमान, ब्लेड से टकराया पक्षी

22 अगस्त को होगी अगली सुनवाई

Catalyst IAS
ram janam hospital

मध्यस्थता के पहले दिन पूर्व डीजीपी डीके पांडेय, उनके बेटे, बहू एवं पत्नी समेत दोनों पक्षों के अधिवक्ता और मेडिएटर्स वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए उपस्थित हुए. मेडिएशन के दौरान सभी पक्षों ने मेडिएटर के समक्ष अपनी- अपनी बातें एवं परेशानियां रखीं. काफी देर तक मध्यस्था चलने के बाद इस मामले में मध्यस्थता की दूसरी बैठक के लिए 22 अगस्त की तिथि डालसा के द्वारा निर्धारित की गयी है.

The Royal’s
Sanjeevani

इसे भी पढ़ें – CAG : कैग और कैग के मुखिया का पद वर्तमान समय में कितना निष्पक्ष रह गया है?

बहू ने दर्ज कराया है मामला

ज्ञात हो कि झारखंड के चर्चित एवं अपने कार्यकाल के वक्त कई वजहों से सुर्खियों में रहनेवाले पूर्व डीजीपी डीके पांडेय पर उनकी बहू द्वारा ही दहेज प्रताड़ना, घरेलू हिंसा समेत अन्य कई गंभीर धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज कराया है. जिसके बाद यह मामला न्यायालय के समक्ष पहुंचा है. पिछली सुनवाई के दौरान डीके पांडेय, उनके बेटे और पत्नी को अदालत से बड़ी राहत मिली थी. कोर्ट ने मामले को मध्यस्था के लिए रेफर करते हुए डीके पांडेय उनकी पत्नी और  बेटे के खिलाफ किसी भी तरह की कार्रवाई पर रोक लगाने का आदेश दिया था.

इसे भी पढ़ें – DGP का आदेश- पुलिसकर्मियों के क्वाॅरेंटाइन अवधि को भी माना जाएगा ड्यूटी

6 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button