NEWS

सरकारी स्कूलों में भी नहीं वसूली जा सकेगी मनमानी फीस, डीइओ ने जारी किया आदेश

विज्ञापन

Ranchi : सरकारी स्कूलों में एडमिशन सहित अन्य मदों में हो रही वसूली को रोकने को लेकर कदम उठाये गये हैं. जिला शिक्षा पदाधिकारी की ओर से सभी स्तर के सरकारी स्कूलों को इस बाबत नोटिस भेजा गया है. दरअसल जिला शिक्षा पदाधिकारी को लगातार शिकायत मिल रही थी कि कई सरकारी स्कूल मनमाने तरीके से फीस के नाम पर पैसे की वसूली कर रहे हैं.

इसे भी इसे पढें- भारत-बांग्लादेश के बीच द्विपक्षीय व्यापार में ममता सरकार बनी रोड़ा, बॉर्डर के दोनों ओर खड़े हैं सैंकड़ों ट्रक

हेडमास्टर पर कार्रवाई की जायेगी

वैसे सरकारी स्कूलों में एडमिशन सहित अन्य मदों में फीस लिये जाते हैं. हालांकि बहुत ज्यादा पैसा नहीं लिया जाता है. लगभग 130 रुपये में हर तरह की फीस पूरी हो जाती है. लेकिन रांची जिला के कई स्कूल 200 रुपये 350 तक वसूल रहे थे. इसी शिकायत के बाद जिला शिक्षा पदाधिकारी मिथिलेश कुमार सिन्हा ने पत्र जारी कर कहा है कि अगर फीस नहीं लेने में मनमानी की तो स्कूलों के हेडमास्टर पर कार्रवाई की जायेगी.

इसे भी पढें- झारखंड में कोरोना का कहर : एक ही दिन 3 की गयी जान, राज्य में संक्रमण से अब तक 18 मौतें

रसीद भी नहीं दी जाती है

डीइओ मिथिलेश कुमार सिन्हा ने बताया कि प्रोजेक्ट, राजकीय, उत्क्रमित सहित कई स्तर के स्कूलों की शिकायत मिली थी कि विभाग की ओर से तय की गयी फीस से ज्यादा फीस ये स्कूल वसूल रहे हैं. इतना ही नहीं जो स्कूल अभिभावकों से मनमाने तरीके से फीस ले रहे हैं, वे फीस की रसीद भी नहीं देते हैं.

इस पर विभागीय स्तर पर संज्ञान लेने के बाद आदेश जारी किया गया है. उन्होंने यह भी कहा है कि एकेडमिक परफॉर्मेंस के आधार पर स्टूडेंट्स को प्रमोट करें. अपने आदेश में यह भी कहा कि नामांकन से किसी भी स्टूडेंट्स को वंचित नहीं किया जाये. वहीं जिन अभिभावकों से निर्धारित फीस से अधिक राशि ली गयी है, उन्हें वापस कर दिया जाये.

इसे भी पढें- कोलकाता से दिल्ली और अन्य शहरों के लिए 6 से 19 जुलाई तक सभी उड़ानें रद्द

advt
Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: