JharkhandLead NewsRanchi

पंचायत चुनाव में लातेहार SDO पर सलहज को मदद करने की जताई आशंका, आयोग से शिकायत कर हटाने की मांग

एसडीओ को हटाने के लिए जिला निर्वाचन पदाधिकारी सह उपायुक्त को आवेदन दिया

Ranchi : लातेहार जिले के बालूमाथ प्रखंड के चेताग पंचायत के पश्चिम निर्वाचन क्षेत्र में पंचायत समिति सदस्य पद की प्रत्याशी नीलम देवी व अवधेश पासवान ने एसडीओ सह निवार्ची पदाधिकारी शेखर कुमार पर अपनी सलहज को चुनाव जीतने में मदद करने का आरोप लगाया है. इस संबंध में इन्होंने राज्य निर्वाचन आयोग व जिला निर्वाचन पदाधिकारी सह उपायुक्त को आवेदन दिया है. इसमें इन्होंने अनुमंडल पदाधिकारी सह निर्वाची पदाधिकारी शेखर कुमार को निर्वाचन के कार्य से मुक्त करने की मांग की है.

Sanjeevani

इसे भी पढ़ें : क्या सचमुच संकट में है हेमंत सरकार, जानें किस-किस करवट बैठ सकता है राजनीति का ऊंट

MDLM

क्या है मामला

आवेदन में कहा गया है कि बालूमाथ प्रखंड से पंचायत समिति सदस्य के उम्मीदवार ईश्वरी राम और अनुमंडल पदाधिकारी शेखर कुमार का साला बहनोई का रिश्ता है. वहीं, लातेहार जिला के बालूमाथ पश्चिमी जिला परिषद के सदस्य के रूप में अनुमंडल पदाधिकारी शेखर कुमार की अपनी सरहज अरुणा कुमारी जिला परिषद के सदस्य पद की अभ्यर्थी है.

इसे भी पढ़ें : Jamshedpur : घर के बाहर बंधी खस्सी चोरी करने से शुरू हुए विवाद के बाद मारपीट, दो घायल

क्या है आपत्ति

आवेदन में कहा गया है कि चुनाव कार्य में अनुमंडल पदाधिकारी की महत्वपूर्ण भूमिका होती है. बूथों में पुलिस बलों के पदस्थापन, बूथों की संवेदनशीलता एवं निवार्ची पदाधिकारी के रूप में अनुमंडल पदाधिकारी की महत्वपूर्ण भूमिका होती है. ऐसी स्थिति में आशंका जताई जा रही है कि पुलिस बल की प्रतिनियुक्ति से लेकर बीच-बीच में भी अनुमंडल पदाधिकारी के द्वारा चुनाव को प्रभावित करने का प्रयास किया जा सकता है.

आवेदन में यह भी कहा गया है कि इस स्थिति में क्या वर्तमान अनुमंडल पदाधिकारी के रहते निष्पक्ष निर्वाचन संभव नहीं है. ऐसे में निर्वाचन आयोग जल्द ही इस मामले में कोई ठोस निर्णय लें और संबंधित पदाधिकारी को तत्काल पद से हटाये. बता दें कि,24 मई को वहां पंचायत चुनाव है. इस संबंध में एसडीओ शेखर कुमार से न्यूजविंग ने बात करनी की कोशिश की पर उन्होंने फोन नहीं उठाया.

इसे भी पढ़ें : CBI Raid: राबड़ी देवी ने खोया आपा, घर के बाहर प्रदर्शन कर रहे राजद कार्यकर्ता को मारा थप्पड़

Related Articles

Back to top button