Education & Career

सीएम मेरिट स्कॉलरशिप के लिए अब 21 मई तक जमा होंगे एप्लीकेशन, सातवीं के अंक की बाध्यता समाप्त

Ranchi : बहुप्रतीक्षित सीएम मेरिट स्कॉलरशिप टेस्ट के एप्लीकेशन की तिथि को झारखंड एकेडमिक काउंसिल की ओर से विस्तार दिया गया है. अब इस टेस्ट में शामिल होने को इच्छुक और योग्यताधारी उम्मीदवार 21 मई तक एप्लीकेशन डाल सकते हैं. वहीं जिला शिक्षा पदाधिकारी की ओर से 28 मई तक एप्लीकेशन का वेरिफिकेशन किया जायेगा. जैक की ओर से इस स्कॉलरशिप टेस्ट में एक और बदलाव किया गया है. पहले एप्लीकेशन में सातवीं के अंक बाध्यता थी. जिसे अब समाप्त कर दिया गया है. पहले आवेदन की तिथि 30 अप्रैल तक निर्धारित थी.

इसे भी पढ़ें – NEET UG 2022 के एप्लीकेशन सब्मिट करने के लिए सिर्फ छह दिन, जानिए क्या है परीक्षा पैटर्न, झारखंड में कितनी सीटें

क्या है एप्लीकेशन की प्रक्रिया

Chanakya IAS
Catalyst IAS
SIP abacus

मुख्यमंत्री मेधा छात्रवृत्ति परीक्षा के लिए एप्लीकेशन जैक की वेबसाइट से भरे जायेंगे. आवेदन ऑनलाइन जमा लिये जायेंगे. स्टूडेंट्स इसके लिए अपने स्कूल से संपर्क कर सकते हैं. इसके बाद जिला शिक्षा पदाधिकारी की ओर से 28 मई तक प्राप्त आवेदन को ऑनलाइन सत्यापित किया जायेगा. जिला शिक्षा पदाधिकारी की ओर से वेरिफिकेशन किये गये एप्लीकेशन के आधार पर जैक परीक्षा के लिए प्रवेश पत्र जारी करेगा.

The Royal’s
Sanjeevani
Pushpanjali

इसे भी पढ़ें – बाबूलाल दल बदल मामला: अब मेरिट पर होगी सुनवाई, स्पीकर ने प्रारंभिक आपत्ति को किया खारिज

कौन होंगे एप्लीकेशन के पात्र

वैसे सभी श्रेणी के स्टूडेंट्स जो राज्य के सरकारी स्कूल की क्लास आठ में पढ़ाई कर रहे हैं. वे इस एप्लीकेशन के पात्र होंगे. पूर्व में अनिवार्य शर्त यह थी कि एप्लीकेशन देनेवाले स्टूडेंट्स को क्लास सात में 55 फीसदी अंक आये हों. जिसे अब समाप्त कर दिया गया है. चयनित विद्यार्थियों को क्लास नौवीं से 12वीं तक के लिए प्रत्येक वर्ष 12000 रुपये छात्रवृत्ति दी जायेगी. छात्रवृत्ति के लिए प्रत्येक वर्ष 5000 विद्यार्थियों का चयन किया जायेगा. छात्रवृत्ति के तहत हर जिले से चयनित होनेवाले विद्यार्थियों की संख्या निर्धारित कर दी गयी है. एक जिला से अधिकतम 400 बच्चों का चयन होगा.

दो खंड में 90-90 अंक की होगी परीक्षा

मुख्यमंत्री मेधा छात्रवृत्ति परीक्षा राष्ट्रीय प्रतिभा खोज परीक्षा (एनटीएसइ) के तर्ज पर ली जायेगी. परीक्षा दो खंड में ली जायेगी. दोनों खंड में 90-90 अंक के प्रश्न पूछे जायेंगे. प्रश्न का स्टैंडर्ड क्लास सात व आठ का होगा. रिजनिंग, विज्ञान, सामाजिक विज्ञान और गणित विषय से प्रश्न पूछे जायेंगे. परीक्षा में चयन के लिए कट ऑफ मार्क्स 60 फीसदी निर्धारित किया गया है. सभी खंड में न्यूनतम 40 फीसदी (एसटी-एससी वर्ग के विद्यार्थियों के लिए 35 फीसदी) अंक लाना अनिवार्य होगा. 30 फीसदी सीट छात्राओं के लिए आरक्षित की गयी है.

इसे भी पढ़ें – JJM: अब भी Jharkhand के 955 गांवों में नहीं है VWSC, 2024 तक हर घर को जल की डगर मुश्किल 

Related Articles

Back to top button