JharkhandRanchi

ड्यूटी के दौरान गंभीर रूप से घायल हुए सिपाही अनिल पाठक को सरकार की ओर से नहीं मिल रही मदद

Ranchi : ड्यूटी के दौरान गंभीर रूप से घायल हुए सिपाही अनिल पाठक को सरकार की ओर से कोई मदद नहीं मिल रही है. अनिल पाठक ड्यूटी के दौरान सड़क दुर्घटना में गंभीर रूप से घायल हुए थे. सिपाही अनिल पाठक के इलाज में काफी रुपया खर्च हो जाने के बाद ट्रैफिक पुलिसकर्मियों के द्वारा आपस में चंदा कर उनके इलाज के लिए रुपया जुटाया जा रहा है. सिपाही अनिल पाठक का राम प्यारी अस्‍पताल में इलाज चल रहा है, जहां उनकी स्थिति गंभीर बनी हुई है.

इसे भी पढ़ें – ब्राउन शुगर के तीन कारोबारी गिरफ्तार, स्कूली छात्रों को बनाते थे शिकार

मदद को आगे आये ट्रैफिक पुलिसकर्मी

ड्यूटी के दौरान घायल हुए सिपाही अनिल पाठक के मदद के लिए रांची शहर के सारे ट्रैफिक पुलिसकर्मी मदद को आगे आए, तो वहीं एएसआइ देवेंद्र सिंह समेत कई लोगों ने इलाजरत अनिल पाठक को खून भी दिया. अन्य पुलिसकर्मियों के द्वारा इलाज के लिए चंदा जुटाया जा रहा.

इसे भी पढ़ें – ममता का मोदी पर निशाना-राजनीतिक फायदे के लिए एक और बेइंतहा नौटंकी

वरीय पुलिस पदाधिकारियों के तर्ज पर नहीं मिलता चिकित्सा सुविधा

आरक्षी कर्मी/कनीय पुलिस पदाधिकारियों को वरीय पुलिस पदाधिकारियों के तर्ज पर चिकित्‍सा सुविधा नहीं मिलता है. आरक्षी कर्मी/कनीय पुलिस पदाधिकारियों को चिकित्सा सुविधा दिए जाने के संबंध में बैठक माननीय मुख्य सचिव की अध्यक्षता में की गयी थी. कैशलेस मेडिक्लेम के संबंध में एसोसिएशन द्वारा अपनी सहमति दी गयी है. इसके आलोक में पुलिसकर्मियों को मिलने वाला 1000 रुपया मेडिकल भत्ता को नहीं लेने का निर्णय भी एसोसिएशन के द्वारा लिया गया है. इस पर सरकार ने सकारात्मक कार्रवाई करने का आश्वासन दिया है.

इसे भी पढ़ें – ‘मिशन शक्ति’ पर कांग्रेस से जेटली का सवालः सरकार में रहते क्यों नहीं दी थी इजाजत

Advertisement

Related Articles

Back to top button
Close