न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

एक और आइएएस शशिकांत सेंथिल ने दिया इस्तीफा, कहा- ध्वस्त हो रहीं लोकतांत्रिक संस्थाएं, पद पर बने रहने का नैतिक अधिकार नहीं

848

Mangaluru: कर्नाटक कैडर के 2009 बैच के आइएएस अफसर एस शशिकांत सेंथिल ने शुक्रवार को इस्तीफा दे दिया. श्री सेंथिल दक्षिण कन्नड़ जिला में उपायुक्त के पद पर कार्यरत थे.

उन्होंने कहा कि जब विविध लोकतंत्र की आधारभूत संरचनाएं ध्वस्त हो रही हों तो ऐसे में उनका सिविल सेवा के अधिकारी के रूप में बने रहने का कोई नैतिक अधिकार नहीं है.

Aqua Spa Salon 5/02/2020

इसे भी पढ़ें – #NewTrafficFine : देखिये VIDEO, फाइन वसूलने के बहाने पुलिस कर रही अपराधियों जैसा सलूक

सेंथिल ने कहा कि विभिन्न स्तरों पर समझौता किया जा रहा है. मुझे यह भी दृढ़ता से महसूस होता है कि आने वाले दिनों में हमारे देश के बुनियादी ताने-बाने के सामने बेहद कठिन चुनौतियां पेश आने वाली हैं, और मुझे अपने जीवन को बेहतर बनाने के लिए अपने काम को जारी रखने के लिए आइएएस पद से मुझे दूर रहना चाहिए.

एस शशिकांत सेंथिल पिछले हफ्ते से छुट्टी पर थे. वह एसएम कृष्णा के दामाद वीजी सिद्धार्थ की आत्महत्या मामले की जांच भी कर रहे थे.

इसे भी पढ़ें – झारखंडः हड़ताल.. हड़ताल.. हड़ताल.. कुपोषित बच्चों को भोजन नहीं, गरीब बच्चों को शिक्षा नहीं…

Gupta Jewellers 20-02 to 25-02

40 साल से सेंथिल 2009 बैच के आइएएस अधिकारी थे, वह तमिलनाडु के रहनेवाले हैं.

शशिकांत का इस्तीफा ऐसे वक्त पर आया है, जब कुछ दिन पहले ही IAS कन्नन गोपीनाथन ने भी अपने पद से इस्तीफा दिया था.

अपने इस्तीफे की वजह बताते हुए गोपीनाथन ने कहा था- कन्नन ने कहा था कि मुझे नहीं लगता कि मुझे सरकार से डरना चाहिए. मुझे जो सही लगा वो किया. अगर मैं नौकरी में रह कर आवाज उठाता, तो मैं गलत होता. मुझे सरकार, लोकतंत्र पर भरोसा है. मैं आवाज उठा कर सरकार को बता रहा हूं कि शायद हमारी गलती हो सकती है. इसपर दोबारा सोचना चाहिए. लोकतंत्र में सभी बोलने का अधिकार है.

इसे भी पढ़ें – नये मोटर वाहन कानून हुआ लागू तो बढ़ गयी वाहन बीमा की ऑनलाइन बिक्री

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like