DeogharJharkhandMain Slider

सांसद निशिकांत दुबे की पत्नी पर जमीन खरीद मामले में एक और एफआइआर दर्ज!

Deoghar : जमीन खरीद मामले में भाजपा सांसद निशिकांत दुबे की पत्नी पर एक औऱ एफआइआर देवघर निवासी शशि सिंह की पत्नी किरण सिंह द्वारा दर्ज कराये जाने की सूचना है. इसमें धोखाधड़ी का मामला दर्ज कराया गया है. एफआइआर दर्ज करानेवाली किरण सिंह के पति शशि सिंह का कहना है कि केस दर्ज हो चुका है और केस संख्या 346/20 है. इस मामले पर देवघर एसपी से बात करने की कोशिश की गयी, लेकिन उन्होंने फोन रिसीव नहीं किया. वहीं देवघर थाना प्रभारी ने कहा कि मामले की जानकारी उन्हें नहीं है.

इसे भी पढ़ें – 17 जुलाई को झारखंड में 104 नये कोरोना संक्रमित मिले, कुल आंकड़ा 4909 पहुंचा

इससे पहले भी सांसद निशिकांत दुबे और उनकी पत्नी के खिलाफ दस्तावेज से छेड़छाड़ के मामले में केस दर्ज हुआ है. यह मामला सोमवार को विष्णुकांत झा की शिकायत पर देवघर नगर थाने में दर्ज हुआ था.

advt

विष्णु कांत झा के द्वारा थाने में दिये गये आवेदन के अनुसार, नगर थाना क्षेत्र के तिवारी चौक स्थित एलओकेसी धाम की रजिस्ट्री 29 अगस्त 2019 को हुई थी जिसकी निबंधन संख्या 770 है.

आरोप ये है कि निशिकांत दुबे के राजनीतिक प्रभाव का इस्तेमाल कर सभी पदाधिकारियों के साथ मिलीभगत करके रजिस्ट्रार, सब रजिस्टार, देवघर सीओ, अनामिका गौतम, शेषाद्री दुबे के वकील द्वारा शपथ पत्र में छेड़छाड़ की गयी है.

20 करोड़ मूल्य की जमीन को 3 करोड़ में निबंधित करा लिया गया

विष्णु कांत झा के द्वारा की गयी शिकायत में कहा गया है कि इस जमीन का सरकारी मूल्य 20 करोड़ रुपये है जिसको सिर्फ 3 करोड़ रुपये में निबंधित करा लिया गया है जो कि नगद स्वरूप अनामिका गौतम और उनकी कंपनी के द्वारा करायी गयी है और यह नियम के विरुद्ध है.

इतने बड़े पैमाने पर नगदी लेनदेन का प्रावधान नहीं है. इन सभी लोगों ने मिलकर झारखंड सरकार और केंद्र सरकार को बड़े पैमाने पर सरकारी राजस्व घाटा पहुंचाने की साजिश रची है.

adv

इसे भी पढ़ें – UN में बोले पीएम मोदी, कोरोना पर भारत का रिकवरी रेट सबसे बेहतर

सांसद निशिकांत दुबे की पत्नी के खिलाफ दर्ज हुई है पीआइएल

गोड्डा सांसद निशिकांत दुबे की पत्नी अनामिका गौतम के द्वारा देवघर में जमीन खरीदने का मामला झारखंड हाइकोर्ट तक पहुंच चुका है. रांची के रहने वाले राम अयोध्या शर्मा ने हाइकोर्ट में जनहित याचिका दायर कर अनामिका गौतम द्वारा खरीदी गयी जमीन का रजिस्ट्रेशन रदद् करने और जमाबंदी खारिज करने की मांग की है.

वहीं पिटीशनर ने इस जमीन खरीद प्रकरण की जांच एक सक्षम एजेंसी से करने की मांग कोर्ट से की है. इसके अलावा इनकम टैक्स डिपार्टमेंट द्वारा जमीन खरीद के दौरान हुए पैसों के लेनदेन पर उचित कानूनी कार्रवाई करने का आग्रह भी किया है.

पिटीशनर राम अयोध्या शर्मा के वकील राजीव कुमार के मुताबिक, निशिकांत दुबे के खिलाफ जनहित याचिका दायर की गयी है. उसमें सबसे महत्वपूर्ण तथ्य यह है कि अनामिका गौतम एक सांसद की पत्नी हैं और वो ये नहीं कह सकती हैं कि उन्हें लैंड परचेज और पैसों के लेनदेन से संबंधित कानून की जानकारी नहीं है.

इसे भी पढ़ें – साइंस-आर्ट्स के रिजल्ट में हुआ सुधार, साइंस में सबसे ज्यादा स्टूडेंट्स हुए फर्स्ट, देखें टॉपरों की सूची

advt
Advertisement

3 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button