Main SliderNational

कर्ज में डूबे अनिल अंबानी ने ब्रिटेन की अदालत में कहा- परिवारवाले उठा रहे उनका खर्च  

New Delhi : कभी दुनिया के अमीरों की लिस्ट में शुमार अनिल अंबानी की माली हालत काफी खस्ताहाल हो चुकी है. हालत यह है कि अब उन्हें अदालत से गुहार भी लगानी पड़ रही है. शुक्रवार को ब्रिटेन की एक अदालत में अनिल अंबानी ने अपना पक्ष ऱखते हुए कहा कि कि उनके पास कोई महत्वपूर्ण संपत्ति नहीं है. उनका खर्च बहुत कम है. उनकी पत्नी और परिवारवाले ही उनका खर्च उठा रहे हैं. आमदनी का कोई दूसरा जरिया नहीं है. वो एक साधारण जीवन जी रहे हैं और सिर्फ एक कार इस्तेमाल करते हैं.

इसे भी पढ़ें :बिहार : राजद की बढ़ी परेशानी, तेजस्वी, तेजप्रताप के खिलाफ एफआइआर

चीनी बैंकों से लिया था $700 मिलियन का ऋण

Chanakya IAS
Catalyst IAS
SIP abacus

गौरतलब है कि अनिल अंबानी की कंपनी रिलायंस कॉम ने फरवरी 2012 में तीन चीनी बैंकों से $700 मिलियन से अधिक का ऋण लिया था. इस ऋण की पर्सनल गारंटी अनिल अंबानी की थी. अब कंपनी के दिवालिया होने की वजह से वह अपना ऋण नहीं चुका पा रही. कर्ज देनेवाले बैंकों ने ब्याज के साथ रकम वसूलने के लिए मुकदमा किया है. अदालत के समक्ष उपस्थित हुए अनिल अंबानी ने अदालत के सामने अपनी संपत्ति को लेकर खुलासा किया है. उन्होंने कहा है कि वे अब अमीर नहीं रहे हैं.

The Royal’s
Sanjeevani
MDLM

इसे भी पढ़ें :संयुक्त राष्ट्र संघ की असेंबली को आज संबोधित करेंगे प्रधानमंत्री मोदी, पाकिस्तान को देंगे जवाब

 

12 जून तक राशि भुगतान करने का आदेश था

मुकदमे की सुनवाई के दौरान कुछ महीने पूर्व लंदन की कोर्ट ने आदेश दिया था कि अनिल अंबानी 12 जून तक तीनों चीनी बैंकों को $7.17 मिलियन का भुगतान करें. अनिल अंबानी अदालत का यह आदेश पूरा करने में असमर्थ रहे. इसके बाद बैंकों ने संपत्ति घोषित करने की मांग की थी. इधर इस मामले मे अनिल अंबानी के स्पष्टीकरण के बावजूद उन्हें राहत की उम्मीद नहीं है. चीनीं बैंकों की ओर से कहा गया है कि वे कर्ज वसूली के लिए अपने सभी कानूनी विकल्पों का प्रयाग करेंगे. अभी कुछ समय पहले ऐसे ही एक मामले में अनिल अंबानी के बड़े भाई मुकेश अंबानी ने उनकी मदद की थी और उन्हें जेल जाने से बचाय़ा था. देखना दिलचस्प होगा कि क्या इस बार भी मुकेश अंबानी अपने छोटे भाई की मदद करने आगे आते है या नहीं.

इसे भी पढ़ें :झारखंड ख्रीस्तीय अल्पसंख्यक शिक्षण संस्था के प्रतिनिधिमंडल ने सीएम से की मुलाकात, शिक्षाकर्मियों की लंबित समस्याओं की दी जानकारी

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button