न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

सफाई व्यवस्था नहीं होने से नाराज मोहल्लेवासी अब पीएम, सीएम को लिखेंगे पत्र

वर्षों से सफाई नहीं होने की वजह से नाराज हैं लोग

341

Ranchi : रांची शहर को स्वच्छता सर्वेक्षण-सूची 2018 में ‘सिटीजन फीडबैक’ के तहत देश के बेस्ट स्टेट कैपिटल का दर्जा मिला था. सफाई व्यवस्था पर इसी सूची में रांची को 21 वां स्थान भी दिया गया था. दूसरी और सफाई व्यवस्था कार्य को लेकर रांची नगर निगम रोजाना अपनी आउटसोर्सिंग कंपनी रांची एमएसडब्ल्यू के साथ सभी 53 वार्डों में काम करने का भी दावा कर रही है. बावजूद वास्तविकता यह है कि निगम का यह दावा आज भी पूरा नहीं हो पा रहा है. कई इलाकों में लोग आज भी गंदगी में रहने को विवश हैं. लोग डेंगू और चिकनगुनिया जैसी बिमारियों से मर रहे हैं. फिर भी ना ही निगम और ना ही वार्ड पार्षद लोगों की इस समस्या का निदान कर पा रहे हैं.

इसे भी पढ़ें- 2012 से 2017 तक झारखंड के 218 NGO का FCRA लाइसेंस रद्द कर चुका है गृह मंत्रालय

गंदगी की अंबार पीएम व सीएम के सपने पर प्रश्नचिन्ह लगने जैसा

मामला वार्ड नंबर 45 में हाईकोर्ट के समीप डोरंडा क्षेत्र स्थित बिलदार मोहल्ला में जमा कचरे से जुड़ा है. मोहल्लेवासियों का कहना है कि वार्ड पार्षद और निगम में कई बार शिकायत भी की गयी, लेकिन फिर भी कई वर्षों से यहां सफाई का काम नहीं किया गया है. सफाई नहीं होने से परेशान अब मोहल्लेवासियों ने प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री को एक पत्र लिखने का फैसला किया है. पत्र की एक प्रतिलिपि नगर विकास मंत्री, मेयर, डिप्टी मेयर, नगर आयुक्त कार्यालय में भी दिया गया है. लोगों का कहना है कि पीएम मोदी स्वच्छता एवं सफाई अभियान को तेजी से चलाने की अपील करते हैं साथ ही सीएम रघुवर दास रांची शहर को स्मार्ट सिटी बनाने की पूरजोर कोशिश कर रहे हैं. वहीं हाईकोर्ट के पीछे गंदगी की अंबार लगना एक तरह से पीएम और सीएम के सपने पर प्रश्नचिन्ह लगने जैसा है.

इसे भी पढ़ें- भारतीय राजनीति के महानायक वाजपेयी जी को अलविदा नहीं कहा जा सकता

सड़कों पर चलना हुआ मुश्किल

न्यूज विंग से फोन पर हुई बातचीत में मोहल्ले में रहने वाले अधिवक्ता प्रिंस का कहना है कि हाईकोर्ट के पीछे स्थित बिलदार मोहल्ला (अताउल्लाह एवं अलहम्द अपार्टमेंट के सामने) में कचरे का अंबार लगा हुआ है. इस इलाके में अपार्टमेंट के अलावा कई निजी मकान भी हैं. इसके बावजूद इस शहरी क्षेत्र में ना तो पक्की सड़क है और ना ही नाली बनी हुई है. मोहल्ले के घरों से पानी निकल कर बीच सड़क में बह रहा है, जिसकी वजह से सड़कों पर चलना मुश्किल हो गया है. मोहल्ले की समस्या को लेकर वार्ड के पार्षद नसीम गद्दी (पप्पू गद्दी) को भी पत्र लिख शिकायत दर्ज करायी गयी, लेकिन अब तक सफाई नहीं किया गया है.

इसे भी पढ़ें- अंतिम सफर पर अटल बिहारी वाजपेयी, दिन के एक बजे तक बीजेपी मुख्यालय में अंतिम दर्शन

मजबूर होकर लोग डाल रहे सड़क पर कचरा

मोहल्ले में ही रहने वाले शेराज का कहना है कि विगत कई वर्षों से निगम की कचरा उठाने वाली गाड़ियां इस मोहल्ले में नहीं आती है, ना ही नालियों की नियमित सफाई होती है. सबसे बड़ी बात तो यह कि यहां निगम का कोई डस्टबिन ही नहीं रखा गया है. ऐसे में मजबूरीवश लोग बीच सड़क में ही कचरा फेंकने को विवश हैं. बाद में इसी कचरे को जानवर पूरे मोहल्ले में फैलाते हैं. अगर बारिश हो जाए तो सड़क पर पड़े कचरे भी सड़ने लगते हैं. ऐसे में यहां मलेरिया, डेंगू चिकनगुनिया जैसी बीमारियों के फैलने का भी खतरा बना रहता है.

palamu_12

लोगों द्वारा लिखा पत्र

लोगों ने सफाई की लगायी गुहार

पत्र लिखने वाले मोहल्लेवासियों ने गुहार लगायी है कि इलाके में फैल रही गंदगी की समस्या के निदान के लिए तुंरत ही पहल की जाए. साथ ही मोहल्ले के हर चौराहे में डस्टबिन लगाए जाए और अविलंब नालियों की सफाई भी करायी जाए. ताकि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सपने को साकार किया जा सके.

इसे भी पढ़ें- बढ़ानी है सरकार को स्थापना दिवस की शोभा, इसलिए छात्रों को तीन माह तक नहीं मिलेंगे 21 हजार शिक्षक

क्या कहना है वार्ड नंबर 45 के पार्षद का

पूरे मामले पर जब न्यूज विंग संवाददाता ने वार्ड नंबर 45 के पार्षद नसीम गद्दी (पप्पू गद्दी) से बातचीत की और सीएम व पीएम को लिखे जाने वाले पत्र के बारे में पूछा गया तो उसपर उन्होंने कहा कि “लिखने दीजिए पत्र”. वहीं इलाके में कई वर्षों से सफाई कार्य नहीं होने के सवाल पर उन्होंने कहा कि मोहल्लेवासी झूठ बोलते हैं. सफाई कार्य पहले भी होता रहा है, लेकिन परिसीमन के बाद उनके वार्ड का क्षेत्रफल बढ़ गया है. इसके विपरित सफाई कार्य को लेकर संसाधन में कोई बढ़ोतरी नहीं की गयी है. हालांकि उन्होंने यह जरूर बताया कि जैसे ही उन्हें जानकारी मिली, उन्होंने मोहल्ले में काम शुरू करा दिया है.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

%d bloggers like this: