Crime NewsJharkhandPalamu

पलामू में कोर्ट के फैसले से नाराज लोगों ने बुजुर्ग को पीट-पीटकर मार डाला

PALAMU: जमीन विवाद के मामले में अक्सर खून खराबा होता रहा है. रिश्ते नाते भूलकर लोग जमीन के टुकड़े के लिए एक दूसरे को मारने पर तूल जाते हैं. पलामू जिले में कुछ इसी तरह की घटना सामने आई है. गुरूवार की सुबह जिला मुख्यालय मेदिनीनगर से सटे बरांव में एक 65 वर्षीय बुजुर्ग दुखन चैधरी की लाठी डंडे से पीट पीट कर हत्या कर दी गयी. घटना के बाद से आरोपी फरार हैं. पुलिस ने शव को कब्जे में ले लिया है. पोस्टमार्टम के लिए मेदिनी राय मेडिकल कऑलेज अस्पताल में भेजा है.

गोतिया से चल रहा था जमीन विवाद

जानकारी के अनुसार बरांव निवासी दुखन चैधरी का उसके गोतिया मुरारी चैधरी, मनु चैधरी, सीताराम चैधरी के साथ वर्षों से जमीन विवाद था. दो एकड़ आठ डिसमिल जमीन के एक प्लाट पर विवाद चल रहा था. जमीन का यह मामला न्यायालय में भी पहुंचा था. जहां सुनवाई के बाद कोर्ट ने जमीन को दुखन चैधरी का बताते हुए उसके पक्ष में फैसला सुनाया. बुधवार को दुखन चैधरी ने इस खेत की जुताई भी की थी.

Catalyst IAS
ram janam hospital

इसे भी पढ़ें : जानें दुनिया का सबसे सस्ता स्मार्टफोन कब होगा इंडिया में लांच, कीमत होगी 5 हजार से कम

The Royal’s
Sanjeevani
Pitambara
Pushpanjali

कोर्ट के फैसले से नाराज

कोर्ट के फैसले से नाराज दूसरे पक्ष के लोगों को दुखन द्वारा खेत की जुताई बर्दाश्त नहीं हुआ. खेत जुताई के अगले दिन गुरुवार की सुबह जब दुखन शौच के लिए घर से बाहर गया था, तभी दूसरे पक्ष के साथ उसका विवाद हो गया. लाठी-डंडा से पीटकर लोगों ने दुखन को मार डाला.

मृतक के दोनों बेटे मौके से भागे

घटना की जानकारी मिलने पर मृतक के दोनों बेटे मौके पर पहुंचे. लेकिन हमला करने वालों की संख्या 10 से 12 रहने के कारण वहां से भाग निकले. सूचना मिलने पर चैनपुर थाना प्रभारी इंस्पेक्टर उदय गुप्ता दल बल के साथ मौके पर पहुंचे और घटना की जानकारी ली.

इसे भी पढ़ें : Jharkhand News: उपायुक्तों ने 1118 कर्मियों का भविष्य संकट में डाला

घटना के बाद आरोपी फरार

चैनपुर थाना प्रभारी ने बताया कि मृतक के बेटों के मुताबिक करीब एक दर्जन लोगों ने दुखन को पीटकर मार डाला. शव को कब्जे में लेकर पुलिस आरोपियों के गिरफ्तारी के लिए प्रयासरत है. सभी फरार हैं. उन्होंने कहा कि विवादित 2 एकड़ 8 डिसमिल जमीन टांड़नुमा है. वहां महुआ सहित अन्य पेड़ है. दलहन की खेती की जाती है.

 

Related Articles

Back to top button