Crime NewsJharkhandPakur

प्रेम-प्रसंग से नाराज पिता ने बेटी को गला घोंटकर मार डाला

Pakur: मुफस्सिल थाना क्षेत्र के ईलामी पंचायत के बागान पाड़ा में पिछले रविवार को पटसन के खेत से आसिफा खातून नाम की एक किशोरी का शव बरामद हुआ था. आसिफा के पिता रफीकुल शेख ने पड़ोस के ही युवक अनोत रविदास पर हत्या का आरोप लगाया था.

अनोत को पुलिस ने उसी दिन उसके घर से हिरासत में ले लिया था. लेकिन पुलिस ने जब इसकी तफ्तीश शुरू की, तो पुलिस के भी होश उड़ गए.

आसिफा का हत्यारा कोई और नहीं बल्कि उसका अपना पिता ही निकला. आरोपी पिता रफीकुल को पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है. वहीं पुलिस को रफीकुल ने हत्या के पीछे जो कारण बताया है, उससे कहानी में ट्विस्ट आ गया है.

Chanakya IAS
Catalyst IAS
SIP abacus

इसे भी पढ़ें :Unlock-2 में बड़ी छूट मिलने के संकेत, जानें क्या कह रही है सरकार

The Royal’s
Sanjeevani
MDLM

दरअसल रफीकुल ने पुलिस को बताया है कि आसिफा का पड़ोस के ही असिम नामक युवक से प्रेम प्रसंग चल रहा था. पिता को बेटी का असिम से मिलना जुलना अच्छा नहीं लग रहा था. दोनों के बीच प्रेम प्रसंग बर्दाश्त नहीं कर पाया. घटना की रात करीब 10:00 बजे आसिफा जब पास के किसी के घर से लौटी तो पिता रफीकुल आग बबूला हो गया और आसिफा के साथ मारपीट करने लगा.

आसिफा जान बचाने के लिए किसी तरह भागने की कोशिश कर रही थी. तभी बरामदे में रखी साइकिल पर गिर गई. पिता उसे पकड़ कर घर के अंदर ले गया. आसिफा का गला दबाया गया.

इसे भी पढ़ें :झारखंडः कोरोना की दूसरी लहर में 60 से अधिक उम्रवालों की ज्यादा हुई मौत

जब गला दबाकर भी आसिफा को जान मारने में कामयाब नहीं हुआ, तो तकिया से दम घोंट दिया. फिर साक्ष्य छुपाने की नीयत से शव को पटसन के खेत में फेंक दिया. घर वापस आकर खुद बेटी के गायब होने का ढोंग करने लगा भाई भतीजों के साथ मिलकर दिखावा के लिए खोजबीन में निकल गया.

अगले दिन सुबह पटसन के खेत में आसिफा का शव बरामद हुआ. पुलिस घटनास्थल पर पहुंची. यहां भी वह बार-बार बेहोश हो जाने और रोने बिलखने का नाटक करता रहा. पुलिस से खुद को बचाने के लिए बेकसूर अनोत रविदास का नाम ले लिया, जिससे उसका जमीन को लेकर विवाद चल रहा था. लेकिन अंत में उसके किए कर्म सामने आ ही गया.

इसे भी पढ़ें :  TAC गठन पर भाजपा और झामुमो में रार, एक दूसरे पर लगा रहे दिग्भ्रमित करने का आरोप

Related Articles

Back to top button