JharkhandRanchi

#Anganbadi में हो रही घटिया सामग्री की आपूर्ति, चान्हो अंचल अधिकारी ने JSLPS को किया शो कॉज

  • आंगनबाड़ी में राशन आपूर्ति में बरती जा रही थी अनियमितता

Ranchi: कोरोना वायरस से संक्रमण को देखते हुए घोषित लॉकडाउन के दौरान राज्य में पीडीएस और आंगनबाड़ी के माध्यम से सीधा राशन लाभुकों तक पहुंचाने का कार्य किया जा रहा है.

Jharkhand Rai

पीडीएस में भी दो माह का राशन अग्रिम दिया जा रहा है. वहीं ऐसे मामले भी सामने आ रहे हैं जहां आंगनबाड़ी को राशन आपूर्ति का जिम्मा है वहां वे घटिया सामानों की आपूर्ति कर रहे हैं.

मामला रांची के चान्हो प्रखंड का है जहां JSLPS के द्वारा बने महिला समूह के द्वारा घटिया समग्री की आपूर्ति की जा रही है.

इसे भी पढ़ें : whatsapp पर खबरें भेजना मुश्किल, न्यूज विंग की खबरें पढ़ते रहने के लिए हमारे Telegram चैनल से जुड़ें, जानें कैसे जुड़ें टेलिग्राम चैनल से

Samford

सीओ-बीडीओ की जांच में सही पाया गया मामला

शुक्रवार को चान्हो के अंचल अधिकारी प्रवीण कुमार सिंह व बीडीओ की संयुक्त टीम ने घटिया राशन आपूर्ति की शिकायत की जांच हेतु आंगनबाड़ी केंद्र राजीवनगर पोड़ाटोली में जाकर निरीक्षण किया. इसमें बहुत ही खराब एवं कम वजन में टी एच आर की आपूर्ति की बात सामने आयी.

जांच के समय सेविका रीना टोप्पो ने बताया कि सेंटर पर जो बादाम, दाल, गुड़ एवं चावल की आपूर्ति की गयी है, उसका वजन कम है एवं गुणवत्ता घटिया है.

सभी सामानों का वजन करने पर बादाम का वजन साढे 700 सौ ग्राम की जगह 500 ग्राम, चावल 1 केजी 250 ग्राम की जगह 1 केजी 200 ग्राम, दाल 750 ग्राम की जगह 600 ग्राम, गुड़ धात्री के लिए 625 ग्राम एवम् बच्चों के लिए 750 ग्राम की जगह 400 ग्राम ठहरता है.

इसे भी पढ़ें : #Ranchi : चांसलर पोर्टल से ही होगा नामांकन, गर्मी छुट्टी में भी चल सकती हैं कक्षाएं

घटिया सामानों की आपूर्ति कर रहा JSLPS

बादाम एकदम घटिया क्वालिटी का और सड़ा हुआ है. इसे खाने से बच्चों एवं धात्री के बीमार पड़ने की पूरी संभावना है. अरहर दाल की जगह मोट या खेसारी की दाल दी गयी है.

गुड़ में मैदा मिला हुआ प्रतीत होता है. जांच के क्रम में बादाम, गुड़ एवं दाल का सैंपल लिया गया है. सेविका को अभी बांटने से मना किया गया है.

जब तक सही मात्रा में एवं गुणवत्ता का राशन उपलब्ध नहीं हो जाता है तब तक सेविका के द्वारा राशन वितरण नहीं किया जायेगा.

अंचल अधिकारी ने लाभुक से राशन वापस लेने को कहा

इस संबंध में अंचलाधिकारी के द्वारा तुरंत ही बाल विकास परियोजना पदाधिकारी से बात की गयी और वितरित किये गये सभी राशन को तत्काल रोकने या लाभुक से वापस लेने का निर्देश दिया गया.

इस संबंध में JSLPS के प्रखंड कार्यक्रम प्रबंधक सबीहा नाज से स्पष्टीकरण की मांग की गयी. साथ ही पंडरा के  दुकानदार ब्रजेश कुमार के विरुद्ध घटिया माल आपूर्ति करने के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज करने की कार्रवाई की जा रही है .

जिस व्यापारी ने की थी आपूर्ति वह मात्र तीन दाना ही बादाम खा सके

कार्रवाई की बात सुनकर पंडरा के व्यापारी ब्रजेश कुमार तुरंत अंचल कार्यालय पहुंचे. अंचल अधिकारी के द्वारा उन्हें बदाम का सैंपल दिया गया और कहा गया कि यदि आप इस बादाम को खा लेंगे तो आपको माफी दी जा सकती है. व्यापारी ने मात्र 3 दाना खाकर थूक दिया.

इसे भी पढ़ें : बेरमो के तेलो में चारो कोरोना पीड़ितों का इलाज झोलाछाप डॉक्टर ने किया था, किया गया क्वांटेराइन

Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: