JharkhandRanchi

गोस्सनर कॉलेज में ‘एंकरिंग कार्यशाला’: विद्यार्थियों ने जाना एंकर की खूबियां

Ranchi : रांची स्थित गोस्सनर कॉलेज के मास कम्युनिकेशन एंड वीडियो प्रोडक्शन विभाग में तीन दिवसीय ‘एंकरिंग कार्यशाला’ की शुरुआत 13 जुलाई से हुई. इसमें विद्यार्थियों को एंकर की खूबी बताई जा रही है. कार्यशाला के मेंटोर विवेक आर्यन थे. विभाग की प्रो. महिमा गोल्डन ने मेंटोर का परिचय कराया. उन्होंाने बताया कि विवेक आर्यन गोस्सनर कॉलेज के सत्र 2015-2018 के छात्र रह चुके हैं. टॉपर भी थे.

विवेक ने विद्यार्थियों से ‘डिजिटल एंकरिंग’ पर चर्चा की. कहा कि डिजिटल मीडिया के आ जाने से एंकरिंग के फील्ड में संभावनाएं बढ़ी है. एंकरिंग के लिए रिसर्च और स्क्रिप्ट बहुत ही महत्वकपूर्ण हैं. एंकर को एंकरिंग के समय उच्चारण, प्रस्तुतिकरण, विषय ज्ञान, आत्मविश्वास आदि पर भी खास ध्यान देना चाहिए.

गोस्सनर कॉलेज के विद्यार्थियों द्वारा बनाए गए एंकरिंग वीडियोस की स्क्रीनिंग भी की गई. मेंटोर ने एंकरिंग करने वाले विद्यार्थियों को इसे देखकर कई टिप्स भी दिए. मेंटोर की स्टोरी टेलिंग और डिजिटल प्लेटफॉर्म पर एंकरिंग के विडियोज भी दिखाए गए. इसके माध्यम से विद्यार्थियों को फेशियल एक्सप्रेशन, बॉडी लैंग्वेज जैसे कई बातें जानने को मिली.

Sanjeevani

कार्यशाला के पहले दिन के ओपन सेशन में सवाल-जवाब का सत्र भी चला. वर्कशॉप में 100 विद्यार्थी शामिल हुए. सेमेस्टर-2 की छात्रा रुपाली दास ने मेंटोर का स्वागत किया. कार्यशाला में प्रो महिमा गोल्डन बिलुंग, प्रो अनुज कुमार, प्रो संतोष कुमार एवं विभाग के सभी विद्यार्थी मौजूद रहे.

इसे भी पढ़ें:  नागालैंड से छपरा पहुंचा एक करोड़ रुपये का 575 किलो गांजा, दो तस्कर गिरफ्तार

Related Articles

Back to top button