न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

रिम्स के चौथे तल्ले से गिरकर वृद्धा की मौत,  मामला संदेहास्पद, स्वास्थ्य मंत्री बोले- हर किसी को सुरक्षा नहीं दे सकते

545

Ranchi : पिछले एक सप्ताह के अंदर रिम्स में सुरक्षा को लेकर कड़े इंतजामात किये गये, इसके बावजूद रिम्स में बुधवार को एक वृद्धा की संदेहास्पद परिस्थिति में मौत हो गयी. मृतक राजकली देवी (58 वर्ष) गढ़वा के भंडरिया थाना क्षेत्र की रहनेवाली थी. वह अपनी बेटी सुनीता देवी के प्रसव के लिए रिम्स आयी थी. बुधवार की सुबह राजकली देवी की रिम्स के चौथे तल्ले से गिरने से हो गयी. कुछ लोग इसे सुसाइड भी बता रहे हैं. हालांकि, इसे मामले को संदेहास्पद भी माना जा रहा है.

इसे भी पढ़ें- सुरक्षित मानव जीवन के लिए वृक्षों और महिलाओं को संरक्षण–सम्मान देना जरूरी : महेश पोद्दार

घटना के बाद स्तब्ध हुए परिजन

मृतक वृद्धा के परिजन ने बताया कि उसकी मां को किसी प्रकार की कोई तकलीफ नहीं थी और वह खुश थी. मानसिक रूप से भी स्वस्थ थी. उन्होंने बताया कि वह बुधवार की अहले सुबह जब उठे, तो किसी ने बताया कि एक महिला की संदेहास्पद परिस्थिति में मौत हो गयी है, जिसका शव रिम्स के इमरजेंसी में रखा हुआ है. परिजनों ने बताया कि जब जाकर देखा, तो दिमाग सन्न हो गया, वहां मेरी मां का शव पड़ा हुआ था.

इसे भी पढ़ें-  खूंटी के घाघरा में बिरसा मुंडा को मारी गई थी गोली, परिजनों ने कहा-दो दिन बाद मिला फूला हुआ शव

जांच के बाद ही हो सकता है मौत के कारणों का खुलासा : निदेशक

वहीं, इस पूरे मामले में रिम्स निदेशक डॉ आरके श्रीवास्तव का कहना है कि जांच के बाद ही मामले पर कुछ कहा जा सकता है. सुबह ही मुझे सुपरवाइजर ने घटना की जानकारी दी कि किसी महिला ने रिम्स के चौथे तल्ले पर स्थित लेबर रूम के पास से कूदकर आत्महत्या कर ली. इसके बाद पुलिस को सूचना दी गयी. पुलिस जांच में जुट गयी है.

इसे भी पढ़ें- खाई में गिरी कोलकाता से रांची आ रही बस, एक की मौत, कई घायल

स्वास्थ्य मंत्री पढ़ाने लगे सुरक्षा का मतलब

इधर, महिला की मौत के बाद स्वास्थ्य मंत्री रामचंद्र चंद्रवंशी ने कहा कि सुरक्षा का मतलब यह नहीं होता है कि हर एक व्यक्ति को सुरक्षा दी जाये. उन्होंने कहा कि इतना बड़ा अस्पताल है, अस्पताल 300 एकड़ में फैला हुआ है. इन सभी की हम सुरक्षा रखे हुए हैं कि कोई गड़बड़ी किसी तरह की मारपीट न करें और ऐसे में कोई बाथरूम में जाकर कुछ कर लेता है, तो इसमें प्रबंधन की क्या गलती है? फिर भी हम ध्यान रखेंगे और महिला की मौत के कारणों का पता लगाया जा रहा है.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: