Crime NewsDeogharJharkhand

देवघर : ट्रक बेचकर बीमा राशि निकलने को लेकर दर्ज करायी गयी थी एफआईआर, पुलिस ने 8 आरोपियों को किया गिरफ्तार

Deoghar : जिले के जसीडीह थाना क्षेत्र स्थित डिगरिया पहाड़ के निकट 23 जनवरी को चालक के साथ मारपीट कर ट्रक लूट व छिनतई की घटना पूर्णतः गलत निकली है. उक्त ट्रक को उसके मालिक गुलाब कुमार यादव ने एक कबाड़ी के हाथों बेचकर ट्रक के बीमा राशि को निकालने के लिए एक साजिश के तहत उक्त ट्रक की लूट और छिनतई व चालक के साथ मारपीट की प्रथमिकी दर्ज करायी थी.

Advt

इस मामले में सदर अनुमंडलीय पुलिस पदाधिकारी पवन कुमार ने अपने कार्यालय में मंगलवार को आयोजित प्रेस कॉन्फ्रेंस में इस मामले का खुलासा किया.

इसे भी पढ़ें:अविनाश पांडेय होंगे झारखंड प्रदेश कांग्रेस प्रभारी

उन्होंने कहा कि पटना के अथमल गोला थाना क्षेत्र स्थित मयूरा गांव निवासी गुलाब यादव के लिखित शिकायत पत्र के आधार पर उक्त तिथि को भादवि की धारा 392 में उक्त स्थल पर बिना नंबर के बोलेरो पर सवार चार अज्ञात व्यक्तियों द्वारा उक्त घटना को अंजाम देने की प्रथमिकी दर्ज करायी गई थी. जिसमें शेखपुरा से ट्रक को रामपुर ले जाने की बातें कही गयी.

एसपी कुमार सिंह द्वारा अनुमंडलीय पुलिस पदाधिकारी पवन कुमार के नेतृत्व गठित टीम द्वारा ट्रक चालक राकेश कुमार यादव से की गयी कड़ाई से पूछताछ में चालक यादव ने घटना का खुलासा करते हुए बताया कि उसका ट्रक मालिक ने उसे कुछ पैसों का लालच देकर स्कार्पियो बुक कर जसीडीह थाना चलकर उक्त प्रथमिकी दर्ज कराने की बात कही. जबकि उसने उक्त ट्रक को 2 जनवरी को ही पटना में ही गाड़ी बेच चुके हैं.

इसे भी पढ़ें:भाजपा ने एक बार फिर की जेपीएससी चेयरमैन को बर्खास्त करने की मांग

इसके बाद उक्त टीम मालिक और चालक को लेकर पटना के उस कबाड़ी खाना में पहुंची जहां गाड़ी बेची गयी थी. एसडीपीओ ने बताया कि वहां कबाडखाना के मालिक आफताब और उसके सहयोगी जितेंद्र कुमार से कड़ाई से पूछताछ करने पर उक्त दोनों ने उक्त ट्रक खरीदने की बात कबूली तथा उसके बताये स्थानों से ट्रक का इंजन, गियर बॉक्स, फ्रंट एक्सल, दो रिम, अन्य डाला का पिछला हिस्सा, डीजल टंकी आदि बरामद की गयी. आरोपियों ने घटना में पुलिस के समक्ष अपनी संलिप्ता स्वीकार करने की बाते कही है.

इस मामले में गिरफ्तार आरोपियों में चालक नालंदा जिला के सारे थाना क्षेत्र स्थित मोरवा वरतर निवासी राकेश कुमार यादव, ट्रक मालिक गुलाब यादव, स्कार्पियो पर लुटेरा के रूप में पटना के अरियारी थाना के डीहा गांव निवासी हिरू यादव और विंदेश्वर यादव, पटना के बाढ़ थाना क्षेत्र स्थित चुन्दी वार्ड नंबर 5 के निवासी कबाडखाना मालिक आफताब, इसी थाना क्षेत्र स्थित गुलाबबाग निवासी कबाड़ खाना सहयोगी जितेंद्र कुमार और एनटीपीसी बाढ़ थाना के निवासी और उक्त ट्रक के इंजन खरीदने के आरोपी गोपाल सिंह शामिल है.

इसे भी पढ़ें:आरपीएन सिंह के इस्तीफे और भाजपा में शामिल होने से झारखंड की सत्ता के समीकरण पर पड़ सकता है प्रभाव

Advt

Related Articles

Back to top button