JharkhandKhas-KhabarNationalNEWS

सालभर से बंद पड़ी फैक्ट्री से अचानक अमोनिया गैस लीक होने से मची हड़कंप, इलाकों को खाली कराया गया

परेवाखेड़ा गांव के 20 लोगों को आंखों में जलन की शिकायत

 Bhopal: भोपाल के अचारपुरा में सालभर से बंद पड़ी फैक्ट्री से देर रात अचानक अमोनिया गैस लीक होने लगी, जिससे पूरे इलाके में हड़कंप मच गया. फैक्ट्री के करीब परेवाखेड़ा गांव में रहने वाले लोगों को अचानक घुटन और आंखों में जलन होने लगी. इस बारे में स्थानीय प्रशासन तत्काल सूचना दी गयी. गैस लीक होने को लेकर भोपाल के लोग एकबार फिर दहशत में आ गये. क्योंकि, पुरानी गैस त्रासदी को लोग भूल नहीं पाये थे.

इसे भी पढ़ें: सड़क दुर्घटनाओं में कमी लाने को लेकर खास योजना तैयार कर रही है केंद्र सरकार  

जिला प्रशासन और नगर निगम का दस्ता हरकत में आया:

गैस लीक की सूचना मिलते ही जिला प्रशासन और नगर निगम का दस्ता हरकत में आया. कलेक्टर समेत तमाम अधिकारी आनन-फानन में पहुंचे और गांव को खाली कराया. फायर ब्रिगेड का दस्ता भी पहुंचा और फैक्ट्री में जिस टैंक से गैस लीक हो रही थी, वहां और आसपास के इलाके में पानी का छिड़काव किया गया. इसके बाद प्रशासन ने अनाउंसमेंट कर लोगों को बताया कि फैक्ट्री से लीक होने वाली गैस जहरीली नहीं है. लोगों को आंख धोने की सलाह दी गई, ताकि जलन कम हो सके.

Sanjeevani

इसे भी पढ़ें: MS DHONI पत्नी साक्षी के साथ पहुंचे रांची, विराट सेना के धमाकेदार प्रदर्शन पर नहीं की टिप्पणी

गैस लीक की सूचना के बाद मौके पर पहुंचे भोपाल के कलेक्टर अविनाश लवानिया ने प्रशासनिक अधिकारियों को राहत एवं बचाव के निर्देश दिए. प्रशासन के मुताबिक गैस लीक होने से परेवाखेड़ा गांव के 20 लोगों को आंखों में जलन की शिकायत हुई. प्रशासन ने एहतियात के तौर पर फैक्ट्री के आसपास के मकानों को खाली करा कर लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया. इन घरों में रहने वालों को पास के आंगनबाड़ी केंद्र या परिजनों के यहां जाने को कहा गया है. घटना के कई घंटों बाद जाकर स्थिति नियंत्रण में आ सकी.

इसे भी पढ़ें: यौन शोषण मामले में सजायाफ्ता आसाराम की जेल में तबीयत बिगड़ी, अस्पताल में भर्ती  

स्थिति नियंत्रण में:

प्रशासन के अधिकारियों के मुताबिक साल भर से बंद पड़ी इस फैक्ट्री में एक वॉल्व खुल गया था, जिसके चलते गैस का रिसाव हुआ. फायर फाईटर्स की मदद से इस वॉल्व को तत्काल बंद करवाया गया, जिसके बाद स्थिति नियंत्रण में लाई जा सकी.

इसे भी पढ़ें: स्कॉर्पियो में अचानक लगी आग, चालक की जिंदा जल कर मौत

फैक्ट्री के मालिक को नोटिस:

अधिकारियों ने बताया कि BHEL के विशेषज्ञों की मदद से बंद फैक्ट्री में अमोनिया गैस की टैंक को खाली कराया जाएगा, ताकि आगे से ऐसी स्थिति फिर न आए. इधर, प्रशासन ने फैक्ट्री के मालिक जावेद खान को नोटिस जारी करने की कार्रवाई भी शुरू करने की बात कही है.

इसे भी पढ़ें: जयपाल सिंह मुंडा स्टेडियम के दिन बहुरेंगे, 5 करोड़ की लागत से होगा जीर्णाद्धार, लगेंगी फ्लड लाइट्स

गैस लीक होने की वजह:

बंद फैक्ट्री से गैस लीक होने की वजह के बारे में विशेषज्ञों ने बताया कि ऐसी स्थिति गर्मी के कारण आ जाती है. गर्मी की वजह से अमोनिया गैस का प्रेशर बढ़ जाता है. फैक्ट्री के संचालन के दौरान अमोनिया गैस को पानी में रिलीज कर दिया जाता है. चूंकि यह फैक्ट्री सालभर से बंद थी, इसलिए पाइप में दबाव बढ़ा और वॉल्व फट गया. इसलिए टैंक से अमोनिया गैस का रिसाव हुआ.

इसे भी पढ़ें: हजारीबाग : तीन दिन से जारी है हाथियों का उत्पात, वन विभाग ने ट्रैक्टर सहित अवैध लकड़ियां जब्त की

Related Articles

Back to top button