न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

DG /IG Conference में बोले अमित शाह, #IPC और #CRPC की धाराओं में अहम बदलाव किया जायेगा

शाह से पहले कॉन्फ्रेंस में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (एनएसए) अजीत डोभाल भी शामिल हुए थे.

100

Pune :  इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ साइंस एजुकेशन एंड रिसर्च, पुणे में आयोजित 54वीं डीजी/आईजी कॉन्फ्रेंस में गृह मंत्री अमित शाह ने शनिवार को कहा कि केंद्र सरकार भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) और अपराध दंड संहिता (सीआरपीसी)  की कुछ धाराओं में  बदलाव के लिए प्रतिबद्ध है, ताकि कानून को आज की लोकतांत्रिक व्यवस्था के अनुसार बनाया जा सके.  इस क्रम में कहा कि सरकार ऑल इंडिया पुलिस यूनिवर्सिटी और ऑल इंडिया फोरेंसिक साइंस यूनिवर्सिटी बनायेगी. और इनसे संबद्ध कॉलेज हर राज्य में स्थापित किये जायेंगे.

उद्घाटन सत्र को संबोधित करते हुए शाह ने इसे पुलिस अधिकारियों का वैचारिक कुंभ करार दिया.  कहा कि इस जगह देश के बड़े पुलिसकर्मी साथ आकर देश की सुरक्षा के लिए नीति आधारित फैसले लेने में मदद करते हैं. जान लें कि शाह से पहले कॉन्फ्रेंस में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (एनएसए) अजीत डोभाल भी शामिल हुए थे.

Mayfair 2-1-2020

इसे भी पढ़ें :  #DelhiFire: अनाज मंडी में लगी भीषण आग, 43 की मौत, 15 की हालत नाजुक, अब तक का सबसे बड़ा रेस्क्यू ऑपरेशन

सीमा सुरक्षा, नशा, आतंकवाद, डिजिटल पुलिसिंग पर चर्चा  

Related Posts

#Nirbhaya_Gang_Rape : कोर्ट ने नया डेथ वारंट जारी किया,  दोषियों को एक फरवरी सुबह छह बजे फांसी दी जायेगी   

कोर्ट ने दोषियों का नया डेथ वॉरंट जारी किया है. हालांकि दोषियों के वकील मामले को और खींचने की फिराक में हैं. एक दोषी की उम्र को लेकर आपत्ति जताई जा रही है.

कार्यक्रम में गृह मंत्री ने देशभर में सबसे बेहतर पुलिस स्टेशन के अवॉर्ड भी बांटे. इनमें अंडमान-निकोबार के एबरदीन स्टेशन हाउस, गुजरात के बालासिनोर और मध्य प्रदेश के एजेके बुरहानपुर को सम्मानित किया गया.  कॉन्फ्रेंस में पुलिसिंग के साथ सीमा सुरक्षा, नशा, आतंकवाद, डिजिटल पुलिसिंग और फोरेंसिक क्षमताओं के मुद्दे पर भी बात हुई.

खबरों के अनुसार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 2014 में पुलिस और आम नागरिकों को पास लाने के मकसद से डीजी/आईजी कॉन्फ्रेंस की नींव रखी थी. इसके बाद यह कॉन्फ्रेंस अब तक असम के गुवाहाटी, गुजरात के केवड़िया और मध्यप्रदेश के टेकनपुर में हो चुकी है. इस कॉन्फ्रेंस के फॉर्मेट में लगातार बदलाव हुए हैं और प्रधानमंत्री-गृहमंत्री अलग-अलग मौकों पर इसका हिस्सा बनते रहे हैं.

Vision House 17/01/2020

इसे भी पढ़ें : #InfrastructureSector के एक तिहाई प्रोजेक्ट में देर का खामियाजा, 3.89 लाख करोड़ रुपये लागत बढ़ी : रिपोर्ट

Ranchi Police 11/1/2020

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like