BusinessNationalWorld

अमेरिकी उद्योग जगत ने भारत में # CompanyTax घटाने की सराहना की

Washington :  अमेरिका के उद्योग जगत ने भारत में कंपनी कर में करीब 10 प्रतिशत कटौती की सराहना की है. अमेरिकी उद्योग जगत का कहना है कि यह आर्थिक नरमी को पलट देगा और वैश्विक कंपनियों को भारत में विनिर्माण का केंद्र शुरू करने में मदद करेगा. भारत सरकार ने शुक्रवार को कॉरपोरेट कर की प्रभावी दर में करीब 10 प्रतिशत की कटौती करने की घोषणा की. मौजूदा कंपनियों के लिये यह दर अब 25.17 प्रतिशत तथा नयी विनिर्माण कंपनियों के लिए 17.01 प्रतिशत पर आ गयी है.  सरकार ने देश की आर्थिक वृद्धि दर को छह वर्ष के निचले स्तर से उबारने तथा निवेश एवं रोजगार सृजन को बढ़ावा देने के लिए ये राहतें दी हैं.

अमेरिका- भारत रणनीतिक एवं भागीदारी फोरम के अध्यक्ष मुकेश अघी ने  भाषा से कहा, कॉरपोरेट कर दरें कम करने की हमारी पुरानी मांग पर सुनवाई करने के लिए हम सरकार की सराहना करते हैं.  यह कदम भारतीय कंपनियों को वैश्विक स्तर पर प्रतिस्पर्धी बनायेगा तथा भारत को विनिर्माण का बड़ा केंद्र बनाने का विकल्प उपलब्ध करायेगा.

इसे भी पढ़ें-  मंत्रियों तक की प्रेस रिलीज जारी नहीं करनेवाला #IPRD अब #IAS की पत्नियों की प्रेस रिलीज जारी करने लगा

वैश्विक निवेशकों का भारतीय बाजार में भरोसा बढ़ेगा

उन्होंने कहा, आर्थिक नरमी को पलटने के लिए उठाया गया यह एक स्वागतयोग्य कदम है. अघी ने कहा कि न्यूनतम वैकल्पिक कर कम करने, शेयरों की पुनर्खरीद पर कर समाप्त करने तथा एफपीआई पूंजीगत लाभ पर बढ़ा हुआ अधिभार कर समाप्त करने के निर्णयों से अमेरिका समेत वैश्विक निवेशकों का भारतीय बाजार में भरोसा बढ़ेगा.

अघी ने इस बात का भरोसा जाहिर किया कि न्यूयॉर्क में 24 सितंबर को अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की होने वाली मुलाकात से पहले दोनों देशों के बीच व्यापारिक तनाव का समाधान निकाल लिया जायेगा. उन्होंने एक सवाल का जवाब देते हुए कहा कि अमेरिकी कंपनियों की भारत के बारे में धारणा अब अधिक परिपक्व है.

इसे भी पढ़ें- देवेश, राज, अमित, सुशील, सुमित, दीपक, मंटू समेत कई ने बताये झारखंड की बदहाली के लिए जिम्मेदार कौन?

advt
Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: