Corona_UpdatesKhas-Khabar

भारत को वेंटिलेटर्स देगा अमेरिका: ट्रंप ने कहा- मिलकर हरायेंगे कोरोना वायरस को

Washington: अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने भारत को वेंटिलेटर्स दान करने की घोषणा की है. ट्रंप ने एक ट्वीट में कहा, मुझे गर्व है कि अमेरिका भारत के मेरे दोस्तों को वेंटिलेटर्स का दान करेगा. हम इस महामारी के दौर में भारत के साथ हर वक्त खड़े हैं.

Jharkhand Rai

इससे कुछ क्षण पहले उन्होंने दोनों देशों के बीच नजदीकी साझेदारी का जिक्र किया और प्रधानमंत्री नरेंद्र को अपना अच्छा मित्र बताया.

इसे भी पढ़ेंःआपकी परेशानी की आवाज बनेगा न्यूज विंग 

‘मिलकर हरायेंगे अदृश्य दुश्मन को’

बता दें कि भारत में शुक्रवार तक कोविड-19 के कुल मामले 85,000 का आंकड़ा पार कर गए जो चीन में संक्रमण के कुल 82,933 मामलों से अधिक है. हालांकि अमेरिका में हालात ज्यादा भयावह हैं जहां कुल 85 हजार 886 मौतों के साथ ही संक्रमण के सबसे अधिक 14 लाख 17 हजार 512 मामले दर्ज किए गए हैं.

Samford

ट्रंप ने शुक्रवार को ट्वीट किया, ‘मुझे यह घोषणा करते हुए गर्व का अनुभव हो रहा है कि अमेरिका भारत में हमारे मित्रों को वेंटिलेटर्स दान करेगा.’

कैंप डेविड जाने के लिए मरीन वन में सवार होने से पहले ट्रंप ने संवाददाताओं को बताया, ‘‘हम भारत में बहुत सारे वेंटिलेटर्स भेज रहे हैं. मैंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से बात की है. हमारे पास वेंटिलेटरों की बढ़िया आपूर्ति है.’’ इसी मामले में सूत्रों के मुताबिक बताया जा रहा है कि अमेरिका भारत को 200 वेंटिलेटर्स दे सकता है. हालांकि व्हाइट हाउस ने अभी यह नहीं बताया कि कितने वेंटिलेटर दान किए जाएंगे.

ट्रंप ने यह भी कहा है कि भारत और अमेरिका मिलकर वैक्सीन बना रहे हैं जिसे लोगों को मुफ्त में दिया जा सकता है.

इसे भी पढ़ेंःUP के औरैया में ट्रक व मजदूरों से भरी DCM में टक्कर, 24 की मौत, कई घायल

पीएम मोदी की तारीफ

राष्ट्रपति ट्रंप ने शुक्रवार को भारत और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की प्रशंसा की. उन्होंने फरवरी में अपनी नई दिल्ली, अहमदाबाद तथा आगरा की यात्रा का जिक्र करते हुए कहा, ‘‘भारत महान देश है और आप जानते हैं कि आपके प्रधानमंत्री मेरे बहुत अच्छे मित्र हैं. मैं कुछ दिन पहले ही भारत से लौटा हूं और हमलोग एक साथ (पीएम मोदी) रहे. ’’

इससे पहले व्हाइट हाउस की ओर से कहा गया कि भारत के साथ अमेरिकी संबंधों को लेकर राष्ट्रपति ट्रंप बहुत खुश हैं. भारत अमेरिका का एक बड़ा साझीदार बन गया है.

याद दिला दें कि ट्रंप के अनुरोध पर पिछले महीने भारत ने अमेरिका में कोविड-19 के मरीजों इलाज के लिए हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्वीन की पांच करोड़ गोलियां भेजी थीं. ट्रंप ने इसके लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को धन्यवाद दिया था.

इसे भी पढ़ेंःबिहार में कोरोना केस 1,000 के पार, 19 नये मामले

Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: