World

अमेरिका ने बी-21 न्यूक्लियर बमवर्षक विमान को दुनिया के सामने पेश किया

अमेरिकी वायु सेना ने शनिवार को बी-21 रेडर लड़ाकू विमान को दुनिया के सामने पेश किया. ये विमान पारंपरिक और परमाणु हथियार ले जाने में सक्षम है. अमेरिका इसे धीरे धीरे शीत युद्ध के समय के पारंपरिक हथियारों की जगह लेगा. 30 साल बाद आए इस नए हर एक बमवर्षक की कीमत 700 मिलियन डॉलर पड़ेगी और ये न्यूक्लियर और पारंपरिक हथियारों को ले जाने में सक्षम होंगे. बताया जा रहा है कि ये बमवर्षक धीरे धीरे बी1 और बी2 मॉडल की जगह लेंगे.

इसे भी पढ़ें: Delhi MCD Election: नगर निगम चुनाव के लिए मतदान आज, 250 सीटों के लिए 1349 उम्मीदवार मैदान में

अमेरिकी वायु सेना का कहना है कि बी-21 वायु सेना के बमवर्षक विमानों के बेड़े भविष्य की रीढ़ की हड्डी साबित होंगे. नॉरथ्रॉप ग्रुमन का बनाया ये विमान बिना पायलट के उड़ सकता है. इस लड़ाकू विमान के बारे में अधिक जानकारी अभी साझा नहीं की गई है लेकिन कहा जा रहा है कि इसका आकार और गति कुछ ऐसी है जो इसे दुश्मन में नज़र में आने से बचाती है.समाचार एजेंसी एएफ़पी नॉरथ्रॉप ग्रुमन ने कहा है कि इस तरह के छह विमान फिलहाल निर्माण और टेस्टिंग के अलग-अलग चरणों में हैं.

Related Articles

Back to top button