न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

#Amazon के CEO जेफ बेजोस चाहते थे PM मोदी से मिलना, लेकिन अपॉइन्टमेंट नहीं  मिला! क्या रही वजह

पीएम मोदी के बेजोस से न मिलने को अमेजन के स्वामित्व वाले अखबार वाशिंगटन पोस्ट में सरकार विरोधी आर्टिकल्स से जोड़कर भी देखा जा रहा है.

225

NewDelhi : Amazon के CEO जेफ बेजोस  ने अपनी भारत यात्रा के दौरान पीएम मोदी से मिलने की इच्छा जाहिर की थी, पर खबरों के अनुसार उन्हें समय नहीं दिया गया. जान लें कि Amazon के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (CEO) जेफ बेजोस तीन दिन के भारत दौरे पर थे. इस क्रम में जेफ बेजोस महात्मा गांधी की समाधि स्थल राजघाट गये.  मुंबई में दिग्गज कारोबारियों और कई बड़े बॉलीवुड कलाकारों से भी मिले.

जानकारी के अनुसार जेफ बेजोस ने तीन दिनों में मोदी सरकार के किसी भी मंत्री से मुलाकात नहीं की. सूत्रों के अनुसार CEO जेफ बेजोस पीएम नरेंद्र मोदी  से मिलना चाहते थे,  लेकिन उन्हें अपॉइन्टमेंट नहीं मिला. सरकार के आलाधिकारियों के अनुसार जेफ बेजोस से मिलना मोदी सरकार की विवशता नहीं है.

Aqua Spa Salon 5/02/2020

इसे भी पढ़ें : #Amazon कंपनी ने कहा, 2025 तक भारत में 10 लाख नौकरियां देंगे

115 बिलियन डॉलर की  संपत्ति के साथ जेफ बेजोस दुनिया के सबसे अमीर आदमी हैं

न्यूज एजेंसी ANI ने एक वरिष्ठ सरकारी अधिकारी के हवाले से कहा है कि पीएम मोदी से मुलाकात  नहीं कर पाने  के पीछे दुनिया की सबसे दिग्गज ई-कॉमर्स कंपनी अमेजन का विवादों में रहना है. जान लें कि 115 बिलियन डॉलर की अनुमानित संपत्ति के साथ जेफ बेजोस वर्तमान में दुनिया के सबसे अमीर आदमी हैं.

वॉशिंगटन पोस्ट में  Article 370 और CAA को लेकर सरकार विरोधी लेख छपे थे

वहीं इस मुलाकात के न होने के पीछे एक और वजह सामने आ रही है. सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, पीएम मोदी के बेजोस से न मिलने को अमेजन के स्वामित्व वाले अखबार वाशिंगटन पोस्ट में सरकार विरोधी आर्टिकल्स से जोड़कर भी देखा जा रहा है. वॉशिंगटन पोस्ट में जम्मू-कश्मीर से Article 370 खत्म करने और CAA को लेकर सरकार विरोधी लेख छपे थे.

भाजपा के कई नेताओं ने ट्विटर पर वॉशिंगटन पोस्ट के इन लेखों की निंदा की थी. जान लें कि जेफ बेजोस ने अपने भारत दौरे पर यह भी घोषणा की कि अमेजन देश में करीब 7 हजार करोड़ रुपए का निवेश करेगी. केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने इस संबंध में कहा था कि अमेजन देश पर कोई अहसान नहीं कर रही है.

Gupta Jewellers 20-02 to 25-02

खबरों के अनुसार कंपटीशन कमीशन ऑफ इंडिया द्वारा भारत में अमेजन और वॉलमार्ट की हिस्सेदारी वाली कंपनी फ्लिपकार्ट की जांच की जा रही है.  जांच का मकसद कंपनी द्वारा दिया जा रहा भारी डिस्काउंट और एक्सक्लूसिव प्रोडक्ट्स और खरीदारों को तरजीह दिये जाना है. अमेजन कंपनी अमेरिका और यूरोप में भी इसी तरह की जांच का सामना कर रही है.

इसे भी पढ़ें : कुरैशी ने Washington में कहा, #RSS प्रेरित सरकार भारत को हिंदू राष्ट्र में बदलने की कोशिश कर रही है

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like