न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

राज्य के सभी विश्वविद्यालयों और कॉलेजों को अनिवार्य रूप से कराना होगा नैक मूल्यांकन

44

Ranchi : राज्य के सभी विश्वविद्यालयों एवं कॉलेजों को अनिवार्य रूप से नैक का मूल्यांकन करानाहोगा. उच्च, तकनीकी शिक्षा एवं कौशल विकास विभाग ने राज्य के सभी निजी एवं सरकारी विश्वविद्यालय एवं कॉलेजों को इस दिशा में निर्देश शुक्रवार को जारी कर दिया है. 2019 तक राज्य के सभी उच्चतर शैक्षणिकसंस्थानों को नैक मूल्यांकन अनिवार्य रूप से कराना होगा, नहीं तो विभाग की ओर सेउन संस्थानों की मान्यता रद्द की जा सकती है. नैक मूल्यांकन के लिए विभाग नैकअधिकारियों के साथ मिलकर जल्द ही इस दिशा में पहल करेगा, ताकि राज्य स्तर पर सभीसंस्थानों का नैक मूल्यांकन 2019 तक कराया जा सके.

12 दिसंबर को नैक अधिकारियों के साथ होगी कुलपतिएवं विभाग के अधिकारियों की समीक्षा बैठक

राज्य के सभी उच्चतर शैक्षणिक संस्थानों के नैकमूल्यांकन के लिए उच्च एवं तकनीकी शिक्षा विभाग 12 दिसंबर को नैकनिदेशक के साथ बैठक करेगा. इसमें नैक के अधिकारियों के साथ राज्य के सभीविश्वविद्यालय के कुलपति, कुलसचिव एवं रूसा के अधिकारी भाग लेंगे.बैठक के माध्यम से अधिकारियों के नैक मूल्यांकन के मापदंड पर प्रकाश डाला जायेगा. निजी विश्वविद्यालयों पर अंकुश एवं उनमें गुणवत्तापूर्ण शिक्षा के प्रसार के लिए विभागने पहल की है. विभाग ने राज्य के निजी विश्वविद्यालयों के कुलपतियों को पत्र लिखाहै कि नैक के अधिकारियों के साथ बैठक में उनके कुलपति अनिवार्य रूप से शिरकत करें. इक्फाई यूनिवर्सिटी, राय यूनिवर्सिटी एवं साईनाथ यूनिवर्सिटी कोविशेष रूप से इस दिशा में आदेश निर्गत किये गये हैं. हालांकि, राय यूनिवर्सिटी नेहाल में ही अपना नैक मूल्यांकन कराया है.

अब नैक मूल्यांकन के आधार संस्थानों को मिलेगा राशि का लाभ :विभाग

silk_park

सरकार के अपर सचिव राजेश सिंह ने राज्य के सभी विश्वविद्यालय के कुलपति एवं प्राचार्य को पत्र लिखा है, जिसमें नैक मूल्यांकन की महत्ता पर बल दिया गया है एवं उस दिशा में 12 दिसंबर को भवन निर्माण विभाग, प्रोजेक्टभवन के सभागार में बैठक होगी. विभाग के सचिव राजेश शर्मा के अनुसार अब उन्हीं संस्थानों को सरकारी राशि का लाभ मिलेगा, जिनका नैक मूल्यांकन होगा.

इसे भी पढ़ें- शादी से किया इनकार तो लड़की ने दर्ज कराया लड़के पर यौन शोषण का आरोप

इसे भी पढ़ें- राशि आवंटन के बावजूद आरयू के गेस्ट लेक्चरर को नहीं मिल रहा मानदेय

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: