1st LeadJharkhandJharkhand PoliticsJharkhand StoryJharkhand Vidhansabha ElectionLead NewsNationalNEWSRanchiTOP SLIDER

UPA के तमाम विधायक और मंत्री पांच को लौटेंगे रांची, एयरपोर्ट से सीधे जायेंगे विधानसभा

Ranchi : झारखंड में सियासी हलचल के बीच यूपीए के तमाम विधायक व मंत्री रायपुर में डेरा डाले हुए हैं. सूचना है कि सारे विधायक पांच सितंबर को रायपुर से लौटेंगे. इस दिन मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने विधानसभा का विशेष सत्र बुलाया है. बताया जाता है कि सत्र के ही दिन चारों मंत्री सहित तमाम विधायक रांची पहुंचेंगे और वहां से सीधे विधानसभा जाएंगे. सारे लोग सुबह 8 बजे रायपुर से झारखंड सरकार की विशेष विमान से रांची एयरपोर्ट पहुंचेंगे.

दो मंत्री कल पहुंचे थे रांची, फिर लौट गये रायपुर

यूपीए विधायक पिछले तीन दिनों से रायपुर में हैं. कैबिनेट की बैठक को लेकर मंत्री बन्ना गुप्ता और बादल पत्रलेख दो सितंबर को रांची पहुंचे थे, कैबिनेट और सुखाड़ को लेकर हाईलेवल बैठक में हिस्सा लेकर देर शाम रायपुर लौट गये. शाम करीब सात बजे दोनों मंत्री रायपुर पहुंचे.

अविनाश पांडे दिल्ली लौटे, राजेश ठाकुर आज जायेंगे दिल्ली

कांग्रेस प्रदेश प्रभारी अविनाश पांडे शुक्रवार को ही दिल्ली लौट गए. झारखंड कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष राजेश ठाकुर कांग्रेस की दिल्ली में चार सितंबर को होने वाली रैली में शामिल होने के लिए शनिवार को रायपुर से दिल्ली के लिए रवाना होंगे. रैली में कांग्रेस विधायक दल के नेता आलमगीर आलम के भी दिल्ली जाने की सूचना है.

पांच सितंबर को बुलाये गये विधानसभा के विशेष सत्र को लेकर सरकार तैयारी में जुट गयी है. विशेष सत्र की सूचना कैबिनेट सचिव को भी जानकारी दे दी गयी है. सूत्रों का कहना है कि इस विशेष सत्र में सरकार बहुमत साबित करेगी और एक ऐसा माहौल तैयार करेगी जिसमें विपक्ष द्वारा लगातार फेंके जा रहे पासे कों कुन्ध करने का  सारा कार्ड होगा. यह भी जानकारी मिली है कि सदन में मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन केंद्र सरकार के खिलाफ भड़ास निकालेंगे.

वर्तमान राजनीतिक अस्थिरता को देखते हुए बुलाया गया विशेष सत्र :  आलमगीर

वहीं, दूसरी ओर संसदीय कार्य मंत्री आलमगीर आलम ने स्पष्ट किया है कि वर्तमान राजनीतिक अस्थिरता को देखते हुए विशेष सत्र बुलाया गया है. जिसमें कई विषयों पर विशेष चर्चा करायी होगी. कहा कि ओबीसी आरक्षण, जातीय जनगणना व स्थानीय नीति जैसी अहम मुद्दों पर चर्चा होगी. सदन में कोई बिल नहीं लाया जाएगा मगर विशेष चर्चा कराकर सरकार सदन में विश्वासत हासिल करेगी.

इसे भी पढ़ें: देवघर : डीसी ने सांसद निशिकांत दुबे पर कराया एफआईआर, तो सांसद ने दिल्ली में डीसी पर कराया मामला दर्ज

 

Related Articles

Back to top button