Education & CareerJharkhandRanchi

सभी बोर्ड के टॉपरों को रांची में सीएम और जिलों में उपायुक्त करेंगे सम्मानित

  • विभाग ने सभी डीईओ को पत्र भेजकर दिया दिशा-निर्देश

Ranchi: शिक्षा विभाग की ओर तीन दिसंबर को राज्य के विभिन्न बोर्ड के मैट्रिक और इंटर परीक्षा के टॉपरों को सम्मानित करने की तैयारी अंतिम चरण में है. मुख्यमंत्री स्वच्छ विद्यालय पुरस्कार के तहत चयनित स्कूलों, मैट्रिक-इंटर के टॉपरों, चयनित प्रधानाध्यापकों व प्रधान शिक्षकों को पुरस्कार मिलेगा.

प्राथमिक शिक्षा निदेशक डॉ भुवनेश प्रताप सिंह ने सभी जिला शिक्षा अधीक्षक (डीईओ) को निर्देश दिया है कि वे अपने जिलों में पुरस्कृत होने वालों को लेकर तैयारी पूरी कर लें. मुख्य कार्यक्रम रांची में होगा, जिसमें मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन सभी को सम्मानित करेंगे. बाकी जगहों पर उपायुक्त या विधायक पुरस्कार वितरण करेंगे.

उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री स्वच्छता प्रतियोगिता में उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले 119 विद्याल पुरस्कृत होंगे. इस मौके पर झारखंड इंटरमीडिएट काउंसिल (जैक), केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) और आईसीएसई बोर्ड के मैट्रिक और इंटरमीडिएट परीक्षा-2020 में राज्य स्तर पर पहला, दूसरा और तीसरा स्थान हासिल करने वाले विद्यार्थियों को प्रोत्साहन राशि देकर सम्मानित किया जायेगा.

इसके तहत मैट्रिक में पहला स्थान हासिल करने वाले को एक लाख, दूसरा स्थान हासिल करने वाले विद्यार्थी को 75 हजार और तीसरा स्थान प्राप्त करने वाले विद्यार्थी को 50 हजार रुपये प्रोत्साहन राशि के रुप में दिये जायेंगे. वहीं इंटरमीडिएट के विज्ञान, वाणिज्य और कला संकाय में पहला स्थान हासिल करने वाले विद्यार्थी को तीन लाख, दूसरा स्थान प्राप्त करने वाले को दो लाख और तीसरा स्थान हासिल करने वाले विद्यार्थी को एक लाख रुपए बतौर प्रोत्साहन राशि मुख्यमंत्री प्रदान कर सम्मानित करेंगे.

इसे भी पढ़ें – यूनिवर्सिटी और कॉलेज के कॉन्ट्रैक्ट टीचर्स की सेवा के अवधि विस्तार को सीएम ने दी मंजूरी

कैसे हुआ स्वच्छ स्कूलों का मूल्यांकन

मालूम हो कि पुरस्कार योजना के लिए आयोजित ऑनलाइन प्रतियोगिता में राज्यभर के शहरी और ग्रामीण इलाकों में अवस्थित 44,441 विद्यालयों ने भाग लिया था. स्वच्छता के पांच मानकों के आधार पर इन सभी विद्यालयों का आकलन कर ग्रेडिंग की गयी थी.

इन मानकों में पेयजल व्यवस्था, शौचालय, हैंडवॉश (साबुन के साथ), ऑपरेशन एंड मेंटनेंस और बिहेवियरल चेंज एंड कैपासिटी बिल्डिंग शामिल है. इन मानकों के आधार पर विद्यालयों को भी पांच श्रेणियों में विभक्त कर स्टार ग्रेडिंग की गयी. इसमें 90 से 100 प्रतिशत प्राप्तांक प्राप्त करने वाले विद्यालयों को पांच स्टार, 75 से 89 प्रतिशत अंक प्राप्त करने वाले विद्यालयों को चार स्टार, 51 से 74 प्रतिशत अंक हासिल करने वाले विद्यालयों को तीन स्टार, 35 से 50 प्रतिशत तक अंक वाले विद्यालयों को दो स्टार और 35 प्रतिशत से कम प्राप्तांक प्राप्त करने वाले विद्यालयों को एक स्टार प्रदान किया गया. इसके बाद बीआइटी मेसरा से अंतिम मूल्यांकन करवाया गया.

इसे भी पढ़ें – देवकमल हॉस्पिटल प्रबंधन को RMC का नोटिस, तीन दिन में अस्पताल भवन खाली करने का निर्देश

कितने टॉपरों को मिलेगा सम्मान

इस समारोह में कुल 59 टॉपर्स को प्रोत्साहन राशि देकर सम्मानित किया जायेगा. इसमें झारखंड इंटरमीडिएट बोर्ड के मैट्रिक के छह और इंटरमीडिएट के 12 टॉपर, सीबीएसई बोर्ड के मैट्रिक के सात और इंटरमीडिएट के 14 टॉपर शामिल हैं. आइसीएसई बोर्ड के मैट्रिक के आठ व इंटरमीडिएट के 12 टॉपर शामिल हैं.

इसे भी पढ़ें – गिरिडीह कांग्रेस अध्यक्ष की कुर्सी के लिए पूंजीपतियों में जगे अरमान, क्या करेंगे पुराने निष्ठावान?

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: