Crime News

झारखंड की सभी जेलें जुड़ेंगी ई-मुलाकात पोर्टल से, जेल में बंद कैदियों से मुलाकात करने में होगी आसानी

Ranchi: झारखंड की सभी जेलें ई-मुलाकात पोर्टल से जुड़ जायेंगी. जिसकी वजह से जेल में बंद कैदियों से उनके परिजनों को मुलाकात करने में आसानी होगी. ई-मुलाकात सिस्टम के जरिए कंप्यूटर के स्क्रीन पर सामने से बात हो सकेगी. मिली जानकारी के अनुसार यह सिस्टम जून से राज्य की 29 जेलों में शुरू हो जायेगा.

जेलों में बंद कैदियों से उनके परिजन कंप्यूटर के स्क्रीन पर आमने-सामने बात कर सकेंगे. वर्तमान में झारखंड में सात सेंट्रल जेल, 15 मंडल कारा, 6 उपकारा और एक ओपन जेल है. ई-मुलाकात सिस्टम शुरू होने से जहां जेल में बंद कैदियों के परिजनों की परेशानी कम होगी, वहीं जेल में आनेवाले आपत्तिजनक वस्तुओं के प्रवेश पर रोक भी लगेगी.

इसे भी पढ़ें – यूपी :  मुस्लिम परिवार ने नवजात बच्‍चे का नाम रखा नरेंद्र दामोदर दास मोदी,  मां की जिद पूरी की

जैप आइटी विभाग को मिला था सॉफ्टवेयर विकसित करने का जिम्मा

मिली जानकारी के अनुसार झारखंड में पिछले दस साल से ई-मुलाकात सिस्टम की सुविधा को शुरू करने की कोशिश की जा रही थी. वर्ष 2009-10 में इसका ट्रायल हुआ था, लेकिन तकनीकी खराबी के चलते एक महीने बाद ही रुक गया था. जैप आइटी विभाग को सॉफ्टवेयर विकसित करने का जिम्मा मिला था. जैप आइटी ने उस टास्क को पूरा कर लिया है.

इसे भी पढ़ें – जानें वो पांच वजहें जिनसे ढहा दिशोम गुरु का अभेद्य किला

ऐसे काम करेगा ई-मुलाकात सिस्टम

ई-मुलाकात के लिए कैदियों के परिजनों को प्रज्ञा केंद्र में अपने कैदी का ब्योरा देना होगा. एक फॉर्म भरना होगा. इसमें परिजन का आधार कार्ड अपलोड होगा. जिस लिंक पर सबकुछ अपलोड होगा, वह जेल से कनेक्टेड होगा. जेल में उक्त कैदी को उसके परिजन का डिटेल्स दिखाया जायेगा. कैदी अगर स्वीकृति देगा, तब उन्हें समय दिया जायेगा. सिर्फ 15 मिनट का एक टाइम निर्धारित होगा. इसके एवज में परिजन को 30 रुपये का भुगतान करना पड़ेगा.

इसे भी पढ़ें – जानिए रांची के पैडमैन को… ग्रामीण महिलाओं की समस्या देख छोड़ी नौकरी, चार सालों से कर रहें जागरूक

Telegram
Advertisement

Related Articles

Back to top button
Close