JharkhandRanchi

नियमावली में सभी पारा शिक्षकों के हितों का रखा जाये ध्यान : हेमंत सोरेन

Ranchi: मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के कांके रोड रांची स्थित आवास पर रविवार को भी पूरे दिन अपनी समस्याओं और परेशानियों को लेकर राज्य के अलग-अलग इलाकों से फरियादी, विभिन्न संगठनों एवं एसोसिएशन से जुड़े प्रतिनिधि पहुंचे.

मुख्यमंत्री ने सभी की परेशानियों और समस्याओं को सुना. उन्होंने कहा कि वे जनता के दुख दर्द को समझते हैं. उसका यथोचित निराकरण जल्द से जल्द करने का आश्वासन भी दिया.

झारखंड शिक्षा मित्र केंद्रीय समिति के प्रतिनिधियों ने मुख्यमंत्री को राज्य में काम कर रहे सभी 65000 पारा शिक्षकों के हितों का ध्यान बन रही नियमावली में रखने के प्रति आकृष्ट कराया.

वही गढ़वा जिले से आये पारा शिक्षकों ने बायोमेट्रिक अटेंडेंस नहीं होने की वजह से रोके गये मानदेय को रिलीज करने की मांग रखी.

इसे भी पढ़ें : मेंटेनेंस नहीं होने के कारण सड़क से दूर हो रही है 108 एंबुलेंस

6 माह से नहीं हो रहा भुगतान

मुख्यमंत्री को ट्रैक्टर ओनर्स एसोसिएशन ने बताया कि उनके ट्रैक्टर का इस्तेमाल रांची नगर निगम कचरा उठाने में करता है. लेकिन पिछले 6 माह से इसका भुगतान नहीं किया गया है.

वहीं बरहेट से आये युवाओं ने सोहराय के अवसर पर आयोजित फुटबॉल प्रतियोगिता के लिए सहायता राशि उपलब्ध कराने का आग्रह किया.

गढ़वा जिला परिषद से कार्यमुक्त किये गये अनुबंधित कर्मियों ने समायोजित करनी की मांग रखी. रांची के पिस्का मोड़ की रहनेवाली दिव्यांग युवती ने राशन दुकान की डीलरशिप दिलाने का आग्रह किया .

किसी ने पेंटिंग तो किसी ने किताब भेंट की

इसे भी पढ़ें : #Dhanbad : भूमि पूजन के दौरान चली गोली, आधा दर्जन लोग घायल, पुलिस ने चटकायी लाठियां

जमशेदपुर से आयी महिला समूह की नीता सरकार, दलजीत कौर और मृदुला मन्ना ने शिबू सोरेन और मुख्यमंत्री की तस्वीर वाली पेंटिंग मुख्यमंत्री को सप्रेम भेंट की.

इसके अलावा मुलाकात के लिए आये कई लोगों ने मुख्यमंत्री को किताब भेंट की.

इसे भी पढ़ें : #RanchiPolice की लचर पुलिसिंग के चलते कई चर्चित मामले फाइलों में हो गये दफन

Telegram
Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button
Close