JharkhandLead NewsRanchi

खतरे की घंटी: +92 से शुरू Mobile no से रहें सावधान

Ranchi: भारत सरकार डिजीटल इंडिया को बढ़ावा दे रही है. तेजी से इंटरनेट का यूज़ बढ़ा है, इंटरनेट की बदौलत आज वाट्स ऐप जैसी इंस्टेंट मैसेंजिंग ऐप का यूज़ लगभग हर व्यक्ति द्वारा किया जा रहा है. परिवार के सभी सदस्यों के फोन में वाट्स एप मौजूद रहता है. सिर्फ मैसेज ही नहीं बल्कि व्हाट्स एप पर वीडियो व वॉयस कॉलिंग की सुविधा भी उपलब्ध है. लेकिन वाहट्स एप आपके लिए खतरे की घंटी भी हो सकती है. खासकर तब जब वाट्स ऐप पर +92 कोड वाले किसी अजनबी नंबर से मैसेज आ रही हो. वाट्स ऐप पर ऐसे ही नंबरों से आने वाली मैसेज अब झारखंड के लोगों को भी आ रहे हैं.

मैसेज करके लोगों को लक्की ड्रा का झांसा दिया जा रहा है. हाल ही में रांची के निवासी को एक मोबाइल फोन पर +92-3091295803 से मैसेज आई. जिसमें केबीसी के नाम पर 25 लाख रुपए की लॉटरी निकलने की जानकारी दी गयी. लोगों को लॉटरी या ईमान जीतने की विडियों के माध्यम से जानकारी देकर करोड़पति बनाने का झांसा दिया गया था. इस लोगों से सीधे-सादे लोगों को ठगे जाने की आशंका बढ़ गयी है.

.इसे भी पढ़ें : पैसेंजर ट्रेन को स्टेशन पर खड़ी कर ड्राइवर चला गया दारू पीने, नशे में धुत होकर बाजार में किया हंगामा, हुआ गिरफ्तार

Sanjeevani

सावधानी ही बचाव

साइबर एक्सपर्ट की माने तो +92 की काल्स में थ्री वे इंटरनेट लिकिंग सिस्टम का इस्तेमाल किया जाता है. जिसके तहत कॉल करने वाला लोकेशन किसी देश का होता है, और नंबर की आईडी दूसरे देश की. काल तीसरे देश में की जाती है. इसका मतलब यह है कि इस सिस्टम के तहत काल करने का लोकेशन किसी देश में होगा, नम्बर की आईडीप्रूफ कहीं की और कॉल इंडिया के नेटवर्क में होता है. धोखेबाजी के लिए वाट्स ऐप का इस्तेमाल किया जा रहा है. इसमें लॉटरी या ईनाम जीतने की बात कहकर झासे में लिया जाता है. झांसे में आये लोगों का हैकर के लिए बैंक एकाउंट को हैक करना बहुत आसान हो जाता है. ऐसे में सावधानी ही बचाव का सबसे बेहतर तरीका है.

इन नम्बरों से सावधान

  • +923091295803
  • +923412358556
  • +923080544284

इन बातों का रखें ध्यान

-यदि आपके पास भी +92 कोड वाले किसी नंबर से मैसेज आ रही है और वह नंबर आपके लिए अननॉन है तो नंबर को इग्नोर करे.
-आपके द्वारा रिप्लाई नहीं करने पर दुबारा मैसेज भेजा जा सकता है. बेहतर होगा कि आप उस नंबर को वाट्स ऐप पर ब्लॉक कर दे. ब्लॉक किए जाने से वह नंबर फिर से आपको कॉन्टेक्ट नहीं कर पाएगा.
-वाट्स ऐप की ओर से ब्लॉक के साथ ही रिपोर्ट की फीचर भी जारी किया गया है. +92 कोड वाले नंबर को वाट्स ऐप पर रिपोर्ट जरूर करें. रिपोर्ट करने से वाट्स ऐप को पता चल जाएगा कि उस नंबर से कोई अमान्य हरकत की गई है, और वाट्स ऐप उस नंबर की तफ्तीश शुरू कर देगी.
-ऐसे नंबर को एक जागरूक नागरिक होने के नाते पूरे वाक्ये को वाहट्सअप को ईमेल करके भी बताना आवश्यक हैं. वाट्स ऐप की वेबसाइट पर जाकर आपके साथ हुए ऐसे हादसे का पूरा ब्यौरा कंपनी को जरूर दें. आपकी सजगता से अन्य लोगों पर मंडराता खतरा कुछ हद तक कम जरूर होगा.

कोट्स

+92 से लोगो को मैसेज आ रहे हैं इस बात की जानकारी नहीं है. नंबर पाकिस्तान के हैं. या इंटरनेट कॉल का इस्तेमाल किया जाता है. यह जांच के बाद पता चलेगा. पुलिस के पास इस तरह का कोई मामला संज्ञान में नहीं आया है. ऐसे मामले की जानकारी मिलेगी तो जांच की जाएगी. उसके बाद ही कुछ स्पष्ट कहा जा सकता है.
एस कार्तिक, साइबर एसपी

इसे भी पढ़ें : Jharkhand: 59 आइटीआइ में जल्द ही 726 प्रशिक्षण पदाधिकारियों की होगी नियुक्ति, जल्द अड़चन होगी दूर

Related Articles

Back to top button