NationalUttar-Pradesh

अखिलेश के चाचा शिवपाल सिंह बोले, सीबीआई के डर ने बना दी सपा-बसपा की जोड़ी

विज्ञापन

Lucknow : सीबीआई के डर से अखिलेश यादव और मायावती ने गठबंधन किया है. बता दें कि समाजवादी पार्टी से अलग होकर नया राजनीतिक दल प्रगतिशील समाजवादी पार्टी लोहिया कएा गठन करने वाले शिवपाल सिंह यादव ने सपा-बसपा गठबंधन पर एकबार फिर से सवाल उठाया है. दोनों दलों पर हमलावर होते हुए समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव के चाचा शिवपाल यादव ने रविवार को कहा कि सीबीआई के डर से यह गठबंधन बना है.  जान ल्रों कि शिवपाल यादव पत्रकारों से बात कर रहे थे. बताया कि साल 1993 में जब सपा-बसपा का गठबंधन हुआ था, उस समय सपा-बसपा पर कोई आरोप नहीं था और न ही सीबीआई का कोई डर था. इस क्रम में कहा कि आज तो सीबीआई का ही डर है, जिसकी डर की वजह से गठबंधन हो रहा है.

सपा-बसपा गठबंधन सफल नहीं होगा

शिवपाल सिंह ने कहा कि यह गठबंधन सफल नहीं होगा. साथ ही कहा कि कांग्रेस यदि संपर्क करेगी तो हम गठबंधन के लिए तैयार हैं. प्रगतिशील समाजवादी पार्टी लोहिया (पीएसपीएल) के नेता शिवपाल ने किसी भी धर्मनिरपेक्ष दल से गठबंधन की इच्छा जताते हुए कहा, अभी हमारी बात तो नहीं हुई है, लेकिन जितने भी धर्मनिरपेक्ष दल हैं, उनमें कांग्रेस भी है;  यदि कांग्रेस हमसे संपर्क करेगी तो हम उससे गठबंधन के लिए पूरी तरह तैयार हैं. हालांकि शिवपाल यादव अब भ्री जसवंतनगर सीट से सपा के विधायक हैं.  सपा में उपेक्षा की बात कहकर उससे अलग होने के बाद शिवपाल ने प्रगतिशील समाजवादी पार्टी-लोहिया नाम से अलग पार्टी का गठन किया है.

इसे भी पढ़ेंः सपा-बसपा गठबंधन को आरजेडी की नसीहत

Telegram
Advertisement

Related Articles

Back to top button
Close