NationalUttar-Pradesh

 बोले अखिलेश, एक फीसदी आबादी के पीएम हैं मोदी, मायावती ने कहा, मोदी अपनी चिंता करें, मेरी नहीं

NewDelhi :  बसपा सुप्रीमो मायावती के साथ बड़ा खेल खेले जाने के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के दावे पर बसपा सुप्रीमो ने निशाना साधा है.  माया ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा है कि मोदी अपनी चिंता करें, मेरी नहीं. रायबरेली और अमेठी में प्रत्याशी नहीं उतारने के सवाल पर मायावती ने कहा कि हमारा वोटर साइलेंट होता है. वह नेता का इशारा समझकर वोट करता है.  रायबरेली और अमेठी में उनका कोर वोटर कांग्रेस के उम्मीदवारों को ही वोट करेगा, इसमें कोई दो राय नहीं है.

जान लें कि लोकसभा चुनाव प्रचार के लिए प्रतापगढ़ पहुंचे प्रधानमंत्री  मोदी ने शनिवार को सपा-बसपा गठबंधन पर निशाना साधते हुए कहा था कि मायावती के साथ बहुत बड़ा खेल खेला जा रहा है.  गठबंधन खतरे में है. इसके जवाब में मायावती ने कहा कि भाजपा महागठबंधन को तोड़ना चाहती है.

लेकिन हम एक हैं. कहा कि  महागठबंधन में कोई मनमुटाव नहीं है. भाजपा लगातार फूट डालो राज करो की राजनीति कर रही है. मायावती ने कहा कि 23 मई के रिजल्ट के बाद सरकार बदलने जा रही है.  अगली सरकार और उसके पीएम की चिंता मोदी सरकार ऐंड कंपनी न करे तो ही बेहतर होगा.

इसे भी पढ़ें- केजरीवाल पर बार-बार होने वाले हमलों के पीछे BJP का हाथ : AAP

पीएम मोदी की भाषा अब बदल गयी है

मायावती के बाद सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव भी पीएम मोदी पर हमलावर हुए हैं.  अखिलेश यादव ने मोदी को 180 डिग्री का पीएम बताते हुए कहा कि वे जो भी कहते हैं, उसके ठीक उल्टा ही करते हैं.  वह केवल एक फीसदी आबादी के ही प्रधानमंत्री हैं.

यूपी के पूर्व सीएम अखिलेश  ने कहा कि पीएम मोदी की भाषा अब बदल गयी है, क्योंकि पिछले चरणों में जो भी चुनाव हुए हैं उनमें भाजपा को एहसास हो गया है कि वह पिछड़ रही है.  वे विकास, किसानों की आय के बारे में बात नहीं कर रहे हैं.

पीएम सिर्फ लोगों को गुमराह करना चाहते हैं. कह कि सपा-बसपा और आरएलडी ही फैसला करेंगे कि दि‍ल्‍़ली में अगली सरकार कौन बनाने जा रहा है और देश का अगला प्रधानमंत्री होगा.   कहा कि  भाजपा की गिनती बिगड़ गयी है.  वह जानते हैं कि उनकी   सरकार नहीं बनने जा रही है, इसलिए वे आईटी, सीबीआई, ईडी की मदद ले रहे हैं.

adv

यह पहली सरकार है जो चुनाव शुरू होने और आचार संहिता के प्रभावी होने के बाद भी लोगों को डरा रही है.   इससे पहले यूपी के गोंडा में पहुंचे अखिलेश यादव ने  कहा, किमुख्यमंत्री और उनके कुछ लोगों ने प्रधानमंत्री को भी चिलम पीना सिखा दिया.  जो लोग मुझे टोंटी-टोंटी कह रहे हैं वही हैं चिलम वाले.

इसे भी पढ़ें- अनंतनाग में BJP नेता की आतंकियों ने गोली मारकर की हत्या

advt
Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: