National

एके एंटनी, केसी वेणुगोपाल का कांग्रेस अध्यक्ष बनने से इनकार! संशय  बरकरार…

NewDelhi : लोकसभा चुनाव में कांग्रेस की करारी हार के  बाद पार्टी के भीतर अध्यक्ष पद को लेकर संशय बना हुआ है. खबरों के अनुसार  कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी अभी भी इस्तीफा देने पर अड़े हुए हैं.  सूत्रों के हवाले से खबर है कि राहुल के बाद कांग्रेस अध्यक्ष कौन बने,  इस पर संकट गहरा गया है.   पार्टी के वरिष्ठ नेता एके एंटनी ने कांग्रेस का राष्ट्रीय अध्यक्ष बनने से साफ इनकार कर दिया है.  खबर है कि पूर्व रक्षामंत्री और गांधी परिवार के विश्वसनीय एंटनी ने स्वास्थ्य कारणों का हवाला देकर अध्यक्ष बनने से मना कर दिया.

पार्टी महासचिव केसी वेणुगोपाल ने भी इसी लाइन में हैं. वे  कार्यकारी अध्यक्ष पद स्वीकार करने से मना करचुकेहैं. इसी बीच पूर्व पीएम मनमोहन सिंह ने शनिवार को कांग्रेस शासित राज्यों के मुख्यमंत्रियों  के साथ बैठक की है. पंजाब के सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह खराब स्वास्थ्य के चलते इसमें शामिल नहीं हुए.

गुजरात : होटल के सेप्टिक टैंक में दम घुटने से सात लोगों की मौत, होटल मालिक के खिलाफ मामला दर्ज

 कांग्रेस अब उत्तर भारत से किसी चेहरे की तलाश कर रही है

Sanjeevani

सूत्रों के अनुसार  दिग्गज कांग्रेसी नेता अहमद पटेल और गुलाम नबी आजाद को पार्टी का नेतृत्व करने के लिए गांधी परिवार के बाहर एक चेहरा  तलाशने को कहा गया था. उन्होंने एके एंटनी को पद संभालने के लिए कहा था.  लेकिन पद अस्वीकार करते हुए एंटनी ने कहा कि गांधी परिवार के प्रति उनका पूरा सम्मान है मगर वह अध्यक्ष पद स्वीकार नहीं कर सकते. पार्टी महासचिव केसी वेणुगोपाल ने कांग्रेस को मजबूत करने की अपनी दूसरी भूमिका हवाला देते हुए कार्यकारी अध्यक्ष के प्रस्ताव को अस्वीकार कर दिया.  केसी वेणुगोपाल कर्नाटक में कांग्रेस के प्रभारी भी हैं.

बता दें कि कांग्रेस में नये नेतृत्व की तलाश तब शुरू हुई लोकसभा चुनाव परिणाम आने के बाद राहुल गांधी ने अध्यक्ष पद से इस्तीफे की इच्छा जताई. हालांकि पार्टी की सर्वोच्च निर्णय लेने वाली कांग्रेस कार्यसमिति (सीडब्ल्यूसी) ने उनके इस्तीफे की पेशकश को मानने से इनकार कर दिया. खबर है कि केसी वेणुगोपाल  और  एके एंटनी  के इनकार के बाद कांग्रेस अब उत्तर भारत से किसी चेहरे की तलाश कर रही है.

इसे भी पढ़ेंः  प. बंगालः कांग्रेस-टीएमसी में खूनी झड़प, तृणमूल के तीन कार्यकर्ताओं की मौत 

Related Articles

Back to top button