JharkhandLead NewsRanchi

ओड़िशा पंचायत चुनाव और पश्चिम बंगाल के निकाय चुनाव में भाग लेगी आजसू पार्टी

Ranchi : आजसू पार्टी ने ओड़िशा के पंचायत चुनाव और पश्चिम बंगाल में होनेवाले नगर निकाय चुनाव में भी उतरने का फैसला लिया है. अगले कुछ माह में दोनों राज्यों में होनेवाले इन चुनावों के लिए पार्टी अपनी तैयारियों को अंतिम रूप देने में लग गयी है. मंगलवार को पार्टी कार्यालय में पार्टी के केंद्रीय प्रवक्ता डॉ देव शरण भगत ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में घोषणा करते कहा कि चुनावों के लिए कैंडिडेट फाइनल किये जा रहे हैं. इसके साथ ही उन्होंने बताया कि राज्य के सभी चौबीसों जिले में पार्टी के जिलाध्यक्ष, कार्यकारी अध्यक्ष और प्रधान सचिव तय कर लिये गये हैं. पार्टी ने पिछले वर्ष को निर्माण वर्ष के तौर पर मनाया था. इस साल पार्टी संघर्ष वर्ष मनायेगी. जनता के सवालों को लेकर पार्टी और जोरदार तरीके से संघर्ष करेगी. अगले कुछ माह बाद महाधिवेशन भी आयोजित किया जायेगा.

इसे भी पढ़ेंः   होटल केनेलाइट के निदेशक मिथिलेश झा की रायगढ़ में सड़क हादसे में मौत

10 लाख सदस्य बनाने का लक्ष्य

देव शरण भगत ने कहा कि पार्टी ने 1 लाख सक्रिय सदस्य बनाने की योजना बनायी है. इसके अलावे 10 लाख सामान्य सदस्य भी बनाये जायेंगे. पिछले वर्ष निर्माण वर्ष के क्रम में पार्टी ने 260 प्रखंडों में सम्मेलन किये थे. 4402 पंचायतों में एक साथ सम्मेलन किया गया था जो दूसरे दलों के लिए बेहद दिलचस्प था. अब पार्टी ने इस संघर्ष वर्ष में सदस्यता अभियान को और तेज करने का फैसला लिया है. अप्रैल-मई के आसपास महाधिवेशन संभावित है जिसमें नये सिरे से कार्यसमिति का गठन किया जायेगा.

आलमगीर आलम और मिथिलेश ठाकुर संभालेंगे पाकुड़ की कमान

आजसू पार्टी ने पाकुड़ के जिलाध्यक्ष के तौर पर अपने पार्टी नेता आलमगीर आलम को जिम्मा सौंपा है. मिथिलेश ठाकुर को प्रधान सचिव का दायित्व दिया है. रांची में संजय महतो को जिलाध्यक्ष बनाया है. गुमला में दिलीप साहू, लोहरदगा में ओम भारती, खूंटी में मसीह चरण पूर्ति (कार्यवाहक प्रभारी), रामगढ़ में दिलीप दांगी, हजारीबाग में विकास राणा, बोकारो में सचिन महतो और इसी तरह दूसरे जिले के लिए अध्यक्ष के नाम की घोषणा कर दी है.

इसे भी पढ़ेंः  गोपालगंज में नवनिर्वाचित मुखिया की गोली मारकर हत्या, घर के सामने अपराधियों ने वारदात को दिया अंजाम

Advt

Related Articles

Back to top button