DeogharJharkhandNEWS

कृषि मंत्री बादल पत्रलेख ने मां कुशमेश्वरी के दरबार में टेका माथा, मधुपुर उपचुनाव में महागठबंधन की जीत का जताया भरोसा

Deoghar : सूबे के कृषि मंत्री बादल पत्रलेख मधुपुर विधानसभा उपचुनाव की तैयारियों के बीच मंगलवार को अपने पैतृक गांव सारवां प्रखंड के कुशवाहा पहुंचे. जहां उन्होंने मां कुशमेश्वरी के दरबार में माथा टेका. जहां मंत्री बादल पत्रलेख ने राज्य की जनता व किसानों की खुशहाली की कामना की. इसके साथ ही मधुपुर उपचुनाव में महागठबंधन की की जीत की भी कामना की. उन्होंने क्षेत्र को पर्यटन स्थल के रूप में विकसित करने पर जोर दिया. मधुपुर विधानसभा उप चुनाव संपन्न होने के बाद पर्यटन मंत्री इसको लेकर एक्शन में रहेंगे. इस बाबत विभाग को अनुशंसा भेज दी गयी है.

 

मधुपुर उपचुनाव में भितरघात के बारे में पूछे जाने पर कृषि मंत्री ने कहा कि सबके अपने-अपने दावे होते हैं मैं दावे पर विश्वास नहीं करता. मैं मधुपुर का विकास और हाजी साहब के सम्मान की बात करता हूं. गठबंधन के वरीय नेता हेमंत सोरेन, रामेश्वर उरांव, आलमगीर आलम, तेजस्वी यादव, सत्यानंद भोक्ता आदि पर मधुपुर की जनता का विश्वास है. यहां की जनता महागठबंधन दल के प्रत्याशी हाफिज उल हसन के पक्ष वोट करेगी. मंत्री ने कहा कि मधुपुर की जनता को विकास चाहिए. हाजी साहब ने जो सपना यहां की जनता को दिखाया था उस सपने के अनुरूप यहां की जनता हमारे पक्ष में मतदान करेगी.

 

इरफान अंसारी के उस बयान पर पल्ला झाड़ते हुए कृषि मंत्री ने कहा मैं इस बारे में उनसे बात करुंगा. जिसमें इरफान अंसारी ने भाजपा प्रत्याशी गंगा नारायण सिंह पर लेबर बेचने का लगाया था. उन्होंने कहा कि भाजपा ने उनमें कुछ खूबियां देखी होगी तो हमने कुछ खामियां देखी है. इरफान अंसारी हमारे पार्टी के स्टार प्रचारक हैं.

 

Sanjeevani

पैतृक गांव कुशवाहा में कुशमेश्वरी के दरबार में माथा टेकने के बाद कृषि मंत्री ने सारवां में गठबंधन दल के कार्यकर्ताओं के साथ बैठक की. जिसके बाद सीमा से जुड़े क्षेत्रों में दौरा शुरू किया गया. बैठक में रामकिशोर सिंह, संजय राय, नरेश यादव, कामदेव यादव, अनिल राउत, रविकांत पत्रलेख, दीपक झा, महेंद्र मंडल, बाबूकांत मिश्रा सहित अन्य कार्यकर्ता उपस्थित थे.

 

इसे भी पढ़ें : कलयुगी पुत्र ने लाठी से पीटकर मां की निर्मम हत्या की

Related Articles

Back to top button