न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

तीन दिन बाद भी पेट्रोल पंप लूटकांड के अपराधी पुलिस की गिरफ्त से बाहर

अपराधी की तलाश में शहर के बाहर छापामारी कर रही है पुलिस

14

Ranchi : 24 अक्टूबर को हुए महज तीन घंटों में राजधानी रांची के तीन पेट्रोल पंपों को हथियार के बल पर लूटने वाले दोनों अपराधी तीसरे दिन भी पुलिस की गिरफ्त से अपराधी बाहर हैं. दोनों अपराधियों  की तलाश में नगड़ी, बेड़ो, धुर्वा के अलावा खूंटी सहित अन्य इलाकों में पुलिस छापेमारी कर रही है.

इसे भी पढ़ेंःजेपीएससी लेक्चरर नियुक्ति : CBI ने विवि प्रबंधन से फिर पूछा, किस आधार पर हुई व्याख्याताओं की सेवा संपुष्ट

एसएसपी ने किया है एसआइटी का गठन

24 अक्टूबर को तीन पेट्रोल पंपों पर हुई लूट में शामिल अपराधियों की गिरफ्तारी के लिए एसएसपी अनीश गुप्ता ने एसआइटी टीम का गठन किया है. एसआइटी की टीम में हटिया डीएसपी बिनोद रवानी, धुर्वा इंस्पेक्टर राजीव कुमार, जगन्नाथपुर इंस्पेक्टर अनूप कर्मकार, तुपुदाना ओपी प्रभारी तारीक अनवर को शामिल किया गया है. इसके लिए दो अलग- अलग टीमें बनाई गयी है जो अपराधियों की तलाश में नगड़ी, बेड़ो, धुर्वा के अलावा खूंटी सहित अन्य इलाकों में छापेमारी कर रही है.

इसे भी पढ़ेंः शहर में बढ़ते अपराध को लेकर एसएसपी दिखे गंभीर, 30 से अधिक चेकपोस्ट और टीओपी का किया निरीक्षण

अपराधियों का पुराना इतिहास देख रही है पुलिस

रांची में बढ़ रही आपराधिक घटनाओं को लेकर एसएसपी ने सिटी एसपी और हटिया डीएसपी समेत कई पुलिस पदाधिकारियों के साथ बैठक की. बैठक में चार्जशीटेड अपराधियों की इतिहास तैयार की गयी है. मामले में पुलिस ने लगभग 30 से अधिक अपराधियों से पूछताछ की. पूछताछ के लिए हिरासत में लिए गए अपराधियों में अधिकांश लोग कुख्यात अपराधी गेंदा सिंह गिरोह के गुर्गे और खूंटी के अपराधी शामिल हैं. आशंका जताई जा रही है कि जिस तरह से अपराधियों ने घटना को अंजाम दिया है. वे लोग हथियार सप्लायर हैं.

इसे भी पढ़ेंः गिरिडीह : पुलिस ने नक्सली एजेंट मनोज चौधरी की कई संपत्तियों को किया सील

दो लुटेरों ने घटना को दिया था अंजाम

गौरतलब है कि तीनों ही पेट्रोल पंप में लूट की घटना को बाइक पर सवार दो लुटेरों ने अंजाम दिया था. सीसीटीवी कैमरे में भी उनके फुटेज कैद हैं, लेकिन मुंह ढका होने की वजह से पहचान करने में दिक्कत हो रही है. बता दें कि लुटेरों ने धुर्वा थाना क्षेत्र के सीठियो रोड स्थित जगरानी फ्यूल सेंटर के कर्मियों से 1,7820 रुपये लूट लिए थे. इसके बाद तुपुदाना के एंसिलियरी चौक स्थित झरी सकलदीप फ्यूल सेंटर से करीब 46 हजार रुपये लूट लिया. वहां से निकलने के बाद शाम 6:15 बजे तुपुदाना के महावीर मंदिर के समीप स्थित माधव फ्यूल सेंटर पर लूट की घटना का अंजाम दिया.

इसे भी पढ़ेंःक्राइम कैपिटल बनी राजधानी रांची, पिछले 9 माह में सबसे अधिक हत्याएं

palamu_12

लोगों में है भय का माहौल

हाल में जिस तरह से लूट की घटना में इजाफा हुआ है. ऐसी घटना से व्यापारी और आम लोगों के भाय का माहौल व्याप्त है. लोगों का कहना है कि जिस तरह से अपराधी का मनोबल बढ़ा हुआ है दिनदहाड़े लूट की घटना का अंजाम दे रहे हैं, कब कहां लूट की घटना हो जाए, कहा नहीं जा सकता है. हमेशा मन में किसी अनहोनी को लेकर डर बना रहता है.

इसे भी पढ़ेंःपूर्व मंत्री एनोस एक्का के खिलाफ ईडी की कार्रवाई, दिल्ली और हरियाणा में एक्का की संपत्ति को किया सील

 20 दिन के अंदर चार बड़ी लूट

7 अक्टूबर को अरगोड़ा थाना क्षेत्र के मुक्ति गैस एजेंसी एक कर्मचारी से हथियार के बल पर चार लाख की लूट.

8 अक्टूबर को धुर्वा थाना क्षेत्र के बर्मन ज्वेलर्स के मालिक से 30 लाख रुपए के जेवरात की लूट.

24 अक्टूबर को राजधानी रांची के तीन पेट्रोल पंप पर 3 घंटे के अंदर कुल 4 लाख रुपए की लूट.

26  अक्टूबर को नगड़ी थाना क्षेत्र के एफसीआइ के कर्मचारी से हथियार का भय दिखाकर 1.60 लाख रुपए की लूट.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

%d bloggers like this: