National

हिंसक प्रदर्शनों के बाद मराठा क्रांति मोर्चा ने राज्यव्यापी बंद वापस लिया

 Mumbai : मराठा क्रांति मोर्चा ने दिन भर जारी हिंसक प्रदर्शनों के बाद राज्यव्यापी बंद वापस ले लिया है.  बता दें कि औरंगाबाद में मराठा आरक्षण की मांग कर रहे एक प्रदर्शनकारी की आत्महत्या के बाद बंद बुलाया गया  था. सोमवार को 28 वर्षीय काकासाहेब दत्तात्रेय शिंदे ने आरक्षण की मांग को लेकर गोदावरी नदी में कूदकर आत्महत्या कर ली थी. शिंदे की मौत के बाद राज्य में कई जगहों पर बंद किया गया, सडक़ और रेल मार्गो में व्यवधान उत्पन्न किया गया.

इसे भी पढ़ेंःकांग्रेस ने राफेल डील पर मोदी और सीतारमण के खिलाफ दिया विशेषाधिकार हनन का नोटिस

जुलूस निकाले गये और आगजनी की घटनाएं हुई

ram janam hospital
Catalyst IAS

कई जगह जुलूस निकाले गये और आगजनी की घटनाएं हुईं.  चैनल टाइम्स नाउ के अनुसार मराठा मोर्चा ने दावा किया कि मोर्चा यह संदेश देने में सफल रहा है कि उसे मुंबई बंद करने के लिए किसी राजनीतिक दल के समर्थन की जरूरत नहीं है. दादर में आयोजित संवाददाता सम्मेलन में मराठा आंदोलन के प्रमुख वीरेंद्र पवार ने बंद वापस लेने के निर्णय की जानकारी दी.

The Royal’s
Sanjeevani

इसे भी पढ़ेंःमराठा आंदोलन : मुंबई बंद को लेकर उग्र हुआ प्रदर्शन, बसों पर हमला, इंटरनेट सेवा ठप

सुबह सरकारी बसों को निशाने पर लिया गया

इससे पूर्व आज बुधवार को मुंबई और ठाणे समेत आसपास के कई इलाकों में हिंसक प्रदर्शन हुए. ठाणे में सुबह सरकारी बसों को निशाने पर लिया गया.  खबर है कि कल्याण में एक बस समेत शहर में कुल नौ बसों में तोड़फोड़ की गयी.  उपद्रवियों ने मानखुर्द में एक बस को आग के हवाले कर दिया,  जिसे बाद में दमकलकर्मियों ने बुझाया. सायन-पनवेल हाइवे पर भी एक वाहन को आग लगी दी गयी.  पथराव के बाद पुलिस ने हवा में गोलियां चलाईं और प्रदर्शनकारियों को तितर-बितर किया.

इसे भी पढ़ेंः प्रशांत किशोर फिर चुनाव मैदान में, प्रधानमंत्री पद के लिए चुन रहे हैं उम्मीदवार

ट्रेन रोकने की कोशिश की

मुंबई से सटे ठाणे में प्रदर्शनकारियों ने रेलवे स्टेशन पर ट्रेन रोकने की कोशिश की.  ठाणे के अलावा जोगेश्वरी और घणसोली स्टेशनों को भी बाधित करने की कोशिश की गई.  पुलिस ने प्रदर्शनकारियों को हटाया, तब यातायात शुरू किया जा सका.  सेंट्रल रेलवे आंशिक रूप से बंद कर दिया गया है. मुंबई में मराठा क्रांति मोर्चा के कार्यकर्ता सुबह से ही बंद का पालन कराने के लिए मुस्तैद रहे.

 न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

Related Articles

Back to top button