JharkhandLead NewsRanchiTOP SLIDER

5 राज्यों के विधानसभा चुनाव के बाद अब मिशन झारखंड पर लगेगी भाजपा

Ranchi: आज यूपी, पंजाब, गोवा, मणिपुर और उत्तराखंड का विधानसभा चुनाव का रिजल्ट है. पंजाब छोड़कर बाकी राज्यों में भाजपा शुरू से लीड करने और फिर से सरकार बनाने की स्थिति में दिख रही है. इधर, पांच राज्यों के चुनाव परिणाम के बाद अब झारखंड में भी सियासी गलियारे में सुगबुगाहट तेज होने लगी है. प्रदेश भाजपा जहां चुनाव परिणामों से उत्साहित है, वहीं सत्तारूढ़ दलों के मुताबिक इससे झारखंड की सेहत पर कोई असर नहीं पड़ने वाला. भाजपा अब मिशन झारखंड की तैयारी की बात कह रही है. कांग्रेस, झामुमो राज्य की राजनीति पर कोई फर्क नहीं पड़ने का दावा करने में लग गये हैं.

अब मिशन झारखंड

सांसद संजय सेठ ने न्यूजविंग से कहा कि ‘मोदी है तो मुमकिन है’ का मंत्र फिर एक बार साकार हो गया. मोदीजी के विकास की राजनीति पर जनता ने मुहर लगा दी है. परिवारवादी, भोगवादी राजनीति को जनता ने नकार दिया है. उसे धत्ता बता दिया है. अब झारखंड सहित देशभर में कांग्रेस मुक्त भारत का अभियान जल्दी ही और गति पकड़ेगा. पार्टी के संगठन महामंत्री धर्मपाल ने यूपी के चुनाव रुझान पर कहा है कि वहां जनता ने सुशासन, सुरक्षा, समृद्धि के लिए वोट दिया है.

इसे भी पढ़ें :  स्पीकर का बयान : सदन में सभी सवाल का समाधान संभव नहीं, सीपी सिंह ने जताया विरोध

सांसद महेश पोद्दार की मानें तो 2024 में राज्य में और देश में होने वाले चुनावों में सशक्त और कमजोर नेतृत्व के मसले पर ही चुनाव होंगे. जनता को बार-बार भावनात्मक, जातिवादी, धार्मिक राजनीति के बहाने बरगलाया नहीं जा सकता. अभी पांच राज्यों के चुनावी रूझान बताते हैं कि जनता को अंततः बेहतर, सुरक्षित जीवन की अपेक्षा राजनीति से होती है. विकास का मुद्दा कई कारणों से कई दल दबाये रखने में सफल रहे. पर अब ऐसा नहीं होने वाला. ऐसा करने पर चिन्हित दलों को जनता किनारे लगा देगी. विकासवादी राजनीति ही सबों का लक्ष्य हो.

प्रदेश प्रवक्ता कुणाल षाडंगी कहते हैं कि 5 राज्यों के चुनाव रूझानों से यह साफ-साफ पता चलता है जनता ने सुशासन, सुरक्षा, समृद्धि के लिए वोट दिया है. पंजाब में आने वाले समय में ज़्यादा मेहनत होगी और परिणाम भी बेहतर होगा. नकारात्मक, दिशाहीन, दिग्भ्रमित करने वाली राजनीति को जनता जनार्दन ने नकार दिया है. काठ की हांडी बार बार नहीं चढ़ती. झारखंड में भी आने वाले समय में फर्क दिखेगा. अब मिशन झारखंड की राह पर पार्टी आगे बढ़ेगी. राज्य सरकार की वादाखिलाफी के खिलाफ जनता में आक्रोश है. पार्टी अब और जोरदार तरीके से जनता के बीच सरकार की नाकामी को ले जायेगी.

झारखंड मजबूत, कोई दिक्कत नहीः अविनाश

कांग्रेस के झारखंड प्रभारी अविनाश पांडे के मुताबिक राज्य में कांग्रेस झामुमो की मजबूत सरकार है. सरकार बेहतर काम कर रही है. हम सब साथ साथ हैं. दूसरे राज्यों के चुनावी परिणामों का कोई असर झारखंड पर नहीं पड़ेगा. कांग्रेस के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष सुखदेव भगत के मुताबिक झारखंड की महागठबंधन सरकार की सेहत पर कोई असर नहीं होना है. अगर कोई बात हो रही है तो सब हवा हवाई है. झामुमो के केंद्रीय महासचिव और प्रवक्ता सुप्रियो भट्टाचार्य ने भी राज्य की राजनीति पर किसी असर की संभावनाओं से साफ साफ इंकार कर दिया.

इसे भी पढ़ें : चार राज्यों में बीजेपी की बढ़त: बिहार विधानसभा में लगे ‘जय श्रीराम’ के नारे

Related Articles

Back to top button