न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

यौन उत्पीड़न के मामले में गिरफ्तारी वारंट जारी होने के बाद अंडरग्राउंड हुए विधायक प्रदीप यादव

295

Deoghar: जेवीएम की महिला नेता से यौन उत्पीड़न के मामले जेवीएम के पोड़ैयाहाट विधायक प्रदीप यादव के खिलाफ सीजेएम कोर्ट से गिरफ्तारी का वारंट शनिवार को जारी हो गया. उसके बाद से ही वह अंडरग्राउंड हो गये हैं. रविवार को देवघर से आयी पुलिस की टीम ने प्रदीप यादव को गिरफ्तार करने के लिए उनके डोरंडा स्थित आवास सहित कई अन्य ठिकानों पर छापेमारी भी की थी, लेकिन प्रदीप यादव का कोई भी सुराग पुलिस को नहीं मिल पाया.

प्रदीप यादव के खिलाफ शुक्रवार को गरिमा मिश्रा की अदालत में गिरफ्तारी वारंट के लिए अर्जी दी गयी थी. कोर्ट ने शनिवार को सुनवाई के बाद गिरफ्तारी वारंट जारी करने का आदेश दिया था. गिरफ्तारी वारंट जारी होने के बाद प्रदीप यादव की मुश्किलें बढ़ गई हैं. देवघर पुलिस प्रदीप यादव को कभी भी गिरफ्तार कर सकती है.

हाइकोर्ट में जमानत याचिका दायर की

सोमवार को प्रदीप यादव ने हाइकोर्ट में अग्रिम जमानत याचिका दाखिल की. हालांकि उनकी जमानत याचिका निचली अदालत से पहले ही खारिज हो चुकी है.

इसे भी पढ़ें – झारखंड के तबरेज की हत्या के विरोध में मेरठ में हंगामाः धारा 144 लागू, इंटरनेट सेवाएं बंद

hotlips top

पुलिस की जांच में दोषी पाये गये प्रदीप यादव

जेवीएम महिला नेत्री से यौन उत्पीड़न के मामले जेवीएम के पोड़ैयाहाट विधायक प्रदीप यादव को पुलिस जांच में दोषी पाया गया है. केस की अनुसंधानकर्ता साइबर डीएसपी नेहा बाला की रिपोर्ट से इस बात का खुलासा हुआ है. पुलिस की जांच में प्रदीप यादव के खिलाफ आइपीसी की धारा 354, 354ए, 354बी, 354डी, 506 और 509 में मामला सत्य पाया गया है.

इसे भी पढ़ें – PWD के अभियंता घनश्याम अग्रवाल को टाउन प्लानर बनाने के लिए विभाग ने छह माह में की तीन अनुशंसा

30 may to 1 june

कोर्ट ने जमानत याचिका को कर दिया है खारिज

यौन उत्पीड़न मामले में आरोपी पोड़ैयाहाट से जेवीएम विधायक प्रदीप यादव की जमानत याचिका कोर्ट ने 18 जून को खारिज कर दी थी. जेवीएम की एक महिला नेत्री ने प्रदीप यादव पर बीते 20 अप्रैल को होटल शिव सृष्टि पैलेस में बुला कर छेड़छाड़ करने का आरोप लगाया था. 2 मई को महिला ने साइबर थाना में यौन उत्पीड़न का केस दर्ज कराया था. मामले के बाद पुलिस द्वारा उक्त होटल को भी सीज किया गया था. वहां फोरेंसिक टीम को भी बुलाया गया था.

इसे भी पढ़ें – बारिश से बेहाल मुंबईः कई ट्रेनें रद्द-कुछ डायवर्ट, अगले 48 घंटे भारी बारिश की चेतावनी

13 जून को दर्ज कराया था अपना बयान

13 जून को प्रदीप यादव ने साइबर थाना में एसडीपीओ विकास चंद्र श्रीवास्तव एवं कांड की आइओ संगीता कुमारी के समक्ष बयान दर्ज करवाया था. पुलिस ने बंद कमरे में उनसे दो घंटे तक पूछताछ की थी. प्रदीप यादव को अपना पक्ष रखने के लिए सात जून का समय दिया गया था, जिसके बाद उन्होंने समय मांगा था. उन्हें 13 जून का समय दिया गया था. दिये गये समय पर आकर उन्होंने पक्ष रखा था.

इसे भी पढ़ें- लोहरदगाः जोनल कमांडर रविंद्र गंझू के लिए लेवी वसूलने वाले तीन नक्सली समर्थक गिरफ्तार

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

o1
You might also like